अवैध वसूली: फुटपाथ कारोबारियों से दुगनी वसूली, निगम की पर्ची पर ना हस्ताक्षर ना तारीख

159

ग्वालियर। अतुल सक्सेना।

दीपावली को देखते हुए ग्वालियर दक्षिण विधायक प्रवीण पाठक की पहल पर प्रशासन ने महाराज बाड़े से हटाए गए फुटपाथ दुकानदारों को अस्थाई दुकानें लगाने की अनुमति दी थी और ये भी तय हुआ था कि इन दिनों में इन छोटे दुकानदारों से ना तो पुलिस और ना ही नगर निगम किसी तरह का शुल्क वसूलेगा। यहाँ अस्थाई बाजार लगाने का पालन हो गया लेकिन नगर निगम के लोग वसूली करने से नहीं चूक रहे। निगम के ठेकेदार के लोग रोक के बावजूद दोगुनी वसूली कर रहे हैं । और दुकानदार को जो रसीद दे रहे हैं  उसपर ना तो किसी के हस्ताक्षर हैं और ना ही तारीख डाली गई है। रसीद पर 10 रुपए प्रिंट हैं जिसे काटकर 20 रुपए लिखकर वसूले जा रहे हैं। 

महाराज बाड़े से हटाए गए फुटपाथ दुकानदार पिछले लगभग 6 महीने से अधिक समय से कारोबार के लिए परेशान थे। पिछले दिनों फुटपाथ कारोबारी दक्षिण विधायक प्रवीण पाठक के पास पहुंचे जिसके बाद विधायक पाठक ने जिला प्रशासन और निगम प्रशासन को दीपावली पर अस्थाई बाजार लगाने के निर्देश दिए। जिसके बाद महाराज बाड़े पर इस समय फुटपाथ कारोबारी बाजार लगा रहे हैं। त्यौहार को देखते हुए इनके लिए व्यवस्था करने की जिम्मेदारी नगर निगम की है  वहीँ यातायात व्यवस्थित करने की जिम्मेदारी पुलिस की है लेकिन दोनों ही विभाग यहाँ फेल दिखाई दे रहे हैं। महाराज बाड़े पर ट्रेफिक रेंग कर चल रहा है । चार पहिया वाहन तो दूर दो पहिया वाहन भी निकलना मुश्किल है । उधर नगर निगम के बाजार वसूली ठेकेदार के आदमी रोक के बावजूद यहाँ अवैध वसूली कर रहे हैं। फुटपाथ कारोबारियों से ठेकेदार के आदमी 10 रुपए की जगह 20 रुपए वसूल रहे हैं। खास बात ये है कि जो रसीद फुटपाथ कारोबारियों को दी जा रही है उसपर ना तो तारीख है और ना ही हस्ताक्षर। बड़ी बात ये है कि बाजार लगवाते समय विधायक प्रवीण पाठक स्पष्ट निर्देश दिए थे कि ना तो कोई दुकानदारों से वसूली करेगा और ना ही दुकानदार किसी को कोई शुल्क देगा। बहरहाल महाराज बाड़े पर छोटे दुकानदारों की मदद के लिए  जो बाजार अस्थाई तौर  पर लगाया गया है वहां अधिकारियों की लापरवाही के चलते अवैध वसूली का धंधा जोरों पर जारी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here