मंत्री बनने के बाद बोलीं इमरती देवी, ‘सिंधिया मेरे भगवान्, मैं उनकी पूजा करती हूँ’

Emreeati-Devi-after-becoming-a-minister-says-Scindia-is-my-God--I-worship

ग्वालियर। कमलनाथ मंत्रिमंडल में ग्वालियर चम्बल संभाग से छह विधायक मंत्री बनाये गए हैं | जिनमें लहार से डॉ. गोविन्द सिंह, बमौरी से ब्रजेन्द्र सिंह सिसोदिया, राधोगढ से जयवर्धन सिंह, भितरवार से लाखन सिंह यादव सिंह, डबरा से इमरती देवी और ग्वालियर विधानसभा से प्रद्युम्न सिंह तोमर को मंत्री बनाया गया है।  मंत्रिमंडल में शामिल किये गए ग्वालियर जिले के तीनों मंत्रियों ने ग्वालियर की जनता और सांसद सिंधिया को धन्यवाद दिया है।  

प्राथमिकताएं पूछने पर मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने कहा कि प्रदेश के विकास के साथ साथ उनके क्षेत्र की जनता को पीने का पानीं मिले और बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं मिले।  उन्होंने कहा कि उनके क्षेत्र में 100 बिस्तर अस्पताल का निर्माण भी उनकी प्राथमिकता में शामिल है। वहीं मंत्री इमरती देवी  बताया कि महिला सुरक्षा और उनके लिए रोजगार उपलब्ध कराना साथ ही सभी क्षेत्र में विकास करना उनकी प्राथमिकता रहेगी।  गुटबाजी के सवाल पर इमरती देवी ने कहा कि वे सिंधिया गुट से आती जरूर हैं लेकिन सिंधिया उनके नेता नहीं हैं भगवान हैं, इमरती देवी ने कहा मैं सिंधिया जी की पूजा करती हूँ।  कांग्रेस में अब कोई गुट नही है, हम सब कमलनाथ जी के नेतृत्व में मिलकर काम करेंगे। मंत्री लाखन सिंह बोले मेरी प्राथमिकताएं प्रदेश का विकास रहेगी।  उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री कमलनाथ जो जिम्मेदारी देंगे उसे वे पूरी ईमानदारी से निभाएंगे।

बता दें कि कमलनाथ मंत्रिमंडल में क्षेत्रीय संतुलन के साथ ही गुटीय संतुलन बनाया गया है| कमलनाथ खेमे से 10, दिग्विजय खेमे से 7 और सिंधिया खेमे से 6 विधायकों को मंत्री बनाया गया है।