EOW Action : ग्वालियर नगर निगम की सब इंजीनियर 15000 रुपये की रिश्वत लेते गिरफ्तार

Atul Saxena
Updated on -

Gwalior EOW Action: ग्वालियर आर्थिक अपराध अन्वेषण ब्यूरो (Gwalior EO) ने आज शुक्रवार शाम ग्वालियर नगर निगम की सब इंजीनियर वर्षा तिवारी को 15 हजार रुपये की रिश्वत लेते नगर निगम मुख्यालय के बाहर पकड़ लिया। वर्षा तिवारी पार्क विभाग में पदस्थ हैं और वे  नगर निगम के 5 गार्डन के रखरखाव के लिए तय हुए ठेके के बिल पास करने के बदले ले रहीं थीं।

EOW Action : ग्वालियर नगर निगम की सब इंजीनियर 15000 रुपये की रिश्वत लेते गिरफ्तार

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के निर्देश के बाद लगातार रिश्वतखोरों के खिलाफ हो रही कार्यवाही के बावजूद भ्रष्टाचार में कमी नहीं आ रही, सरकारी अधिकारी कर्मचारी बेख़ौफ़ रिश्वत ले रहे हैं। हालाँकि लोकायुक्त, ईओडब्ल्यू जैसे एजेंसियां उन्हें रंगे हाथ गिरफ्तार कर रही हैं लेकिन सरकारी मुलाजिमों में इसका कोई भय नहीं है।

पार्क के मेंटेनेस के बिल पास करने के बदले मांगी रिश्वत 

ग्वालियर में आज शुक्रवार को ईओडब्ल्यू  ने ग्वालियर नगर निगम के पार्क विभाग में पदस्थ सब इंजीनियर वर्षा तिवारी को 15 हजार रुपये की रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया। EOW से मिली जानकारी के अनुसार ग्वालियर नगर निगम के पार्क विभाग में पदस्थ सब इंजीनियर वर्षा तिवारी ने नगर निगम के पांच गार्डन के रखरखाव का ठेका लेने वाले सुरेश सिंह यादव व अतुल सिंह यादव से उनके जनवरी माह के बिल 6 लाख 70 हजार को पास करने के एवज में कमीशन के हिसाब से 20 हजार रुपये की मांग की थी।

नगर निगम मुख्यालय के बाहर से गिरफ्तार 

रिश्वत मांगे जाने के बाद अतुल सिंह ने 5 हजार रुपये कल दे दिये थे लेकिन इसकी शिकायत EOW में कर दी, ईओडब्ल्यू को जानकारी देने के बाद अतुल सिंह ने आज जैसे ही वर्षा तिवारी को नगर निगम मुख्यालय के बाहर रिश्वत की राशि 15 हजार रुपये  दिये तो वहां मौजूद ईओडब्ल्यू की टीम ने उन्हें रंगे हाथ पकड़ लिया दबोच लिया।


About Author
Atul Saxena

Atul Saxena

पत्रकारिता मेरे लिए एक मिशन है, हालाँकि आज की पत्रकारिता ना ब्रह्माण्ड के पहले पत्रकार देवर्षि नारद वाली है और ना ही गणेश शंकर विद्यार्थी वाली, फिर भी मेरा ऐसा मानना है कि यदि खबर को सिर्फ खबर ही रहने दिया जाये तो ये ही सही अर्थों में पत्रकारिता है और मैं इसी मिशन पर पिछले तीन दशकों से ज्यादा समय से लगा हुआ हूँ.... पत्रकारिता के इस भौतिकवादी युग में मेरे जीवन में कई उतार चढ़ाव आये, बहुत सी चुनौतियों का सामना करना पड़ा लेकिन इसके बाद भी ना मैं डरा और ना ही अपने रास्ते से हटा ....पत्रकारिता मेरे जीवन का वो हिस्सा है जिसमें सच्ची और सही ख़बरें मेरी पहचान हैं ....

Other Latest News