पिता ने लगाई फांसी, अंतिम संस्कार के लिए जेल में बंद बेटे की रिहाई की मांग को लेकर शव रखकर परिजनों ने किया चक्का जाम

पुलिस ने शव को हटाने का निवेदन किया लेकिन परिजन अपनी मांग पर अड़े रहे।

ग्वालियर, अतुल सक्सेना। ग्वालियर (Gwalior) के थाटीपुर चौराहे पर उस समय अचानक विषम स्थिति बन गई जब बड़ी संख्या में पहुंचे लोग एक शव के साथ चक्का जाम करने लगे। चक्का जाम के कारण चौराहे के आसपास ट्रैफ़िक जाम हो गया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को हटाने का निवेदन किया लेकिन परिजन अपनी मांग पर अड़े रहे।

यह भी पढ़े…सतना से सामने आई अमानवीयता की तस्वीरें, गौ माता के शव को 500 मीटर तक घसीटता दिखा JCB चालक

जानकारी के मुताबिक दुष्कर्म के आरोप में योगेश सिसोदिया नामक युवक ग्वालियर सेंट्रल जेल में बंद है। उसके पिता भगवान सिंह ने बीती रात फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। परिजनों का कहना था कि भगवान सिंह के इकलौते बेटे को अंतिम संस्कार के लिए जेल से कुछ देर के लिए रिहा किया जाए, इसी मांग को लेकर वे चक्का जाम करने लगे। परिजनों ने भगवान सिंह के शव को सड़क पर रख दिया।

यह भी पढ़े…झाबुआ में सीएम ने जाहिर की नाराजगी, कहा – नेता हो या अधिकारी जनता की सेवा के लिए होते हैं

मृतक के भतीजे अंकित ने बताया कि उसके भाई को फंसाया गया है एक साल से योगेश बंद है जमानत अर्जी खारिज हो रही है, लड़की वाले राजीनामे के नाम 5 लाख पहले ले चुके हैं और 5 लाख फिर मांग रहे हैं। शनिवार को ताऊ भगवान सिंह योगेश से मिलने गए थे उसके बाद से परेशान थे, उन्होंने पत्नी से कहा मैं मर जाऊंगा और फिर उन्होंने फांसी लगा ली।

पिता ने लगाई फांसी, अंतिम संस्कार के लिए जेल में बंद बेटे की रिहाई की मांग को लेकर शव रखकर परिजनों ने किया चक्का जाम

यह भी पढ़े…नवरात्रि पर गरबा-डांडिया के लिए ट्राइ करें ये 6 हेयर स्टाइल

मौके पर मौजूद पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों चक्का जाम कर रहे लोगों को समझाइश दी लेकिन वे राजी नहीं हुए । वरिष्ठ अधिकारियों ने कानूनी राय ली फिर भरोसा दिया कल सोमवार को कोर्ट खुलेगा तो वहां गुहार की जायेगी क्योंकि ये कोर्ट के हाथ में है हमारे हाथ में नहीं है।

यह भी पढ़े…घर के पास खेल रहा था 10 साल का बच्चा, अचानक लगी गोली, पड़ोसी पर हत्या आरोप

पुलिस की समझाइश के बाद परिजनों ने चक्का जाम खोल दिया। एडिशनल एसपी मृगाखी डेका ने बताया कि फिलहाल आज रात मृतक के शव को मुरार सिविल अस्पताल के डीप फ्रीजर में रखा जाएगा । सुबह सोमवार को मृतक के बेटे को अंतिम संस्कार के लिए जेल से बाहर लाने की प्रक्रिया की जाएगी।