पिता ने लॉकडाउन में बाहर खेलने से किया मना, नाराज बेटे ने लगा ली फांसी

ग्वालियर। अतुल सक्सेना| कोरोना (Corona) महामारी से बचने के लिए लॉक डाउन (Lockdown) का पालन करना सभी शहरवासियों की जिम्मेदारी है लेकिन इसी जिम्मेदारी का पालन कराने के कारण एक पिता ने मासूम को खो दिया। एक नाबालिग ने सिर्फ इसलिए फांसी लगा ली कि उसके पिता ने उस बाहर खेलने पर डांट दिया था और कोरोना के कारण घर से बाहर खेलने से मना कर दिया था।

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक गोला का मंदिर थाना क्षेत्र की सूर्य विहार कॉलोनी में नवल किशोर राठौर किराना व्यवसायी हैं ।घर के पास ही उनकी दुकान है। लॉक डाउन के चलते दुकान बंद है और सब लोग घर में ही हैं बीते रोज उनका 15 वर्षीय बेटा राज घर के बाहर खेल रहा था पिता ने कोरोना के कारण घर में रहने और बाहर खेलने से मना किया। जब राज नहीं माना तो पिता नवल किशोर ने उसे डांट दिया। पिता की डांट के बाद राज घर में आया और अपने कमरे में चला गया। शाम के समय जब पिता ने उसे आवाज लगाई तो कोई जवाब नहीं मिला। जब उसे देखने कमरे में गए तो कमरा अंदर से बंद था। । खिड़की से झांकने पर मालूम पड़ा कि राज फांसी पर लटका है। पिता ने अन्य लोगों की मदद से दरवाजा तोड़ा और राज को नीचे उतारा और अस्पताल लेकर भागे लेकिन तब तक देर हो चुकी थी, डॉक्टर ने राज को मृत घोषित कर दिया। घटना की सूचना पुलिस को दी गई। गोला का मंदिर थाना पुलिस ने पंचनामा बनाकर शव को पोस्ट मार्टम के लिए भेज दिया।