ग्वालियर । भिंड की पूर्व जनपद अध्यक्ष संजू जाटव ने अपने पति गजराज जाटव पर एक महिला द्वारा लगाए गए दुष्कर्म के आरोपों को षडयंत्र करार दिया है और इसके पीछे राजनीति से जुड़े लोगों का हाथ बताया है। पूर्व जनपद अध्यक्ष ने आईजी से मुलाकात कर पूरे मामले की निष्पक्ष जांच कराने की मांग की है। 

मंगलवार को आईजी ग्वालियर राजाबाबू सिंह से मुलाकात करने भिंड की पूर्व जनपद अध्यक्ष संजू जाटव ग्वालियर पहुंची। उन्होंने आईजी से निवेदन किया कि महिला का रिकॉर्ड ख़राब है इसलिए उसके आरोपों की सच्चाई का पता लगाया जाए और पूरे मामले की निष्पक्ष जांच की जाए।  मीडिया से बात करते हुए संजू जाटव ने आरोप लगाया है कि जो महिला उनके पति के साथ फेसबुक पर दोस्ती करती है व्हाट्सएप पर चैटिंग करती है साथ में घूमती है वही उनके पति पर नशे की हालत में होटल में ले जाकर दुष्कर्म करने का आरोप लगा रही है जो सरासर गलत है। उन्होंने कहा कि जब वो दोस्त बनकर वो मिलती है तो इसमें उसकी रजामंदी होगी। संजू ने आरोप लगाए कि जो महिला आरोप लगा रही है उसका रिकॉर्ड पहले से ही ख़राब है।  उन्होंने इसे षडयंत बताते हुए उसमें राजनीति से जुड़े लोगों का हाथ  बताया। उन्होंने आईजी से मिलकर इस मामले की निष्पक्ष रूप से जांच कराने के लिए आवेदन दिया है। आवेदन में कहा गया है कि महिला ने जो साक्ष्य दिए हैं उसकी जांच के साथ साथ हमारे पास मौजूद महिला की चैटिंग सहित कॉल रिकॉर्डिंग की भी जांच की जाए।  उधर आईजी राजाबाबू सिंह का कहना है कि इस मामले में जो भी तथ्य सामने आएंगे उसी के हिसाब से कार्रवाई की जाएगी ।  गौरतलब है कि एक महिला ने संजू के पति गजराज जाटव पर नई सड़क के एक होटल में दुष्कर्म करने का आरोप लगाया है चूंकि महिला थाटीपुर इलाके में रहती है इसलिए थाटीपुर पुलिस ने शून्य पर दुष्कर्म का मामला दर्ज कर उसे भिंड कोतवाली थाने के लिए रेफर कर दिया है। फिलहाल गजराज जाटव फरार है।