Gwalior News: लापरवाही पर गिरी गाज,एक इंजीनियर निलंबित, दो को कारण बताओ नोटिस

नगर निगम कमिश्नर ने निर्देश दिए हैं कि किसी भी वार्ड से पानी की शिकायत नहीं आनी चाहिए

MP

ग्वालियर, अतुल सक्सेना। कमिश्नर के निर्देशों का उल्लंघन किये जाने का खामियाजा ग्वालियर नगर निगम (gwalior municipal corporation ) के एक उपयंत्री को भुगतना पड़ा है , ग्वालियर नगर निगम कमिश्नर ने कार्य में लापरवाही मानते हुए उपयंत्री को निलंबित कर दिया इसके अलावा दो अन्य इंजीनियरों को कारन बताओ नोटिस जारी किये हैं।

ग्वालियर नगर निगम कमिश्नर शिवम वर्मा (gwalior municipal commissioner shivam varma) ने शहर में पेयजल सप्लाई से संबंधित बिन्दुओं को लेकर पीएचई के अधिकारियों के साथ समीक्षा की तथा कार्य में लापरवाही करने पर एक उपयंत्री को निलंबित कर दिया। इसके साथ ही एक सहायक यंत्री एवं एक उपयंत्री को कारण बताओ नोटिस जारी किये। कमिश्नर ने कहा कि कार्य में किसी भी तरह की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

ये भी पढ़ें – मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने किया बाढ़ग्रस्त क्षेत्रों का हवाई दौरा, कहा नुकसान की भरपाई सरकार करेगी

ग्वालियर नगर निगम कमिश्नर शिवम वर्मा ने पिछले दिनों प्रत्येक उपयंत्री को प्रतिदिन 25-25 नल कनेक्शनों का सर्वे करने के निर्देश दिए गए थे। बालभवन में आयोजित समीक्षा बैठक के दौरान कमिश्नर ने उसी क्रम में विभिन्न वार्डों में वैध व अवैध नल कनेक्शनों को लेकर किए जा रहे सर्वे कार्य की जानकारी वार्ड वार ली। बैठक में सामने आया कि उपयंत्री अनिल उपाध्याय द्वारा वैध-अवैध कनेक्शन का सर्वे कार्य नहीं किया गया हुए ना ह गंदे पानी की सैम्प्लिंग व टेस्टिंग की गई।  जानकारी सामने आने पर कमिश्नर ने नाराजगी व्यक्त करते हुए उपयंत्री उपाध्याय को तत्काल प्रभाव से निलम्बित करने के निर्देश दिए। इसके साथ ही डोर टू डोर नल कनेक्शन सर्वे कार्य में लापरवाही करने पर उपयंत्री ब्रिजेंद्र परिहार को भी कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिए।

ये भी पढ़ें – Transfer: मप्र में फिर बढ़ेगी तबादला अवधि! ट्रांसफर लिस्ट पर खींचतान जारी

बैठक में गंदे पानी की शिकायत वाले स्थानों से सप्लाई के दौरान पानी की सैंम्पिलंग व टेस्टिंग करने के कार्य में लापरवाही करने पर सहायक यंत्री डी के गुप्ता को भी कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिए। निगम कमिश्नर वर्मा द्वारा समीक्षा बैठक के दौरान सभी उपयंत्रियों को निर्देश दिए गए कि वह प्रतिदिन अपने अपने क्षेत्र में कम से कम 25-25 नल कनेक्शनों का सर्वे करें तथा अवैध नल कनेक्शनों को वैध करने की कार्यवाही करें।

ये भी पढ़ें – ट्रांसफर फर्जीवाड़ा : क्राइम ब्रांच ने 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया, अहम दस्तावेज बरामद

ग्वालियर नगर निगम कमिश्नर शिवम वर्मा ने कहा कि जलप्रदाय के दौरान प्रत्येक उपयंत्री अपने अपने क्षेत्र में मॉनीटरिंग करें तथा जहां भी गंदे पानी आने की समस्या हो तत्काल उसका निराकरण कराएं तथा सभी उपयंत्री अपने अपने क्षेत्र में कुछ स्थानों के पानी के सैम्पल लेकर उनकी टेस्टिंग कराएं। बैठक में अपर आयुक्त राजेश श्रीवास्तव, अपर आयुक्त मुकुल गुप्ता, अधीक्षण यंत्री पीएचई आर एल एस मौर्य, उपायुक्त एपीएस भदौरिया, कार्यपालन यंत्री जागेश श्रीवास्तव, अमृत योजना के आरई सहित सहायक यंत्री, उपयंत्री एवं अन्य संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे।