Gwalior News : पवैया की कांग्रेस को सलाह, जन आक्रोश यात्रा का नाम “क्षमा याचना यात्रा” रखें, बोले- कांग्रेस को MP के 95% सनातनियों से माफी मांगनी चाहिए

Atul Saxena
Published on -

Gwalior News : विधानसभा चुनाव से पहले भाजपा की जन आशीर्वाद यात्रा बनाम कांग्रेस की जन आक्रोश यात्रा आमने सामने हैं, भाजपा की जन आशीर्वाद यात्रा ने अपना अंतिम पड़ाव पूरा कर लिया है लेकिन कांग्रेस की जन आक्रोश यात्रा अभी जारी है। भाजपा कांग्रेस की जन आक्रोश यात्रा को उनकी जन आशीर्वाद यात्रा की नकल बता रही है और तंज कस रही है कि जनता का आक्रोश जिस कांग्रेस के खिलाफ है वही कांग्रेस जन आक्रोश यात्रा निकाल रही है। भाजपा के वरिष्ठ नेता और पूर्व मंत्री जयभान सिंह पवैया ने तो कांग्रेस को अपनी यात्रा का नाम बदलकर क्षमा याचना यात्रा रखने की सलाह दी है, उन्होंने कहा कि कांग्रेस आज उन लोगों के साथ खड़ी है जो सनातन धर्म का अपमान कर रहे है, इसलिए उसे मप्र के 95 प्रतिशत सनातनियों से माफी मांगनी चाहिए।

हमने जनता के कल्याण के काम किये इसलिए आशीर्वाद लेने निकले हैं : पवैया 

ग्वालियर में मीडिया से बात करते हुए महाराष्ट्र के सह प्रभारी, मप्र के पूर्व मंत्री एवं प्रखर हिंदूवादी नेता जयभान सिंह पवैया ने आज सनातन धर्म के अपमान पर कांग्रेस और विपक्षी गठबंधन I.N.D.I.A. के नेताओं को जमकर घेरा, उन्होंने कहा कि हमारी जन आशीर्वाद यात्राओं की सफलता से बौखला कर कांग्रेस ने नकल करते हुए जन आक्रोश यात्रा शुरू की है। हमने 18 सालों में जो किया और इन बीते हुए तीन सालों में जो किया, जनता के कल्याण के लिए किया,  उसके बदले जनता का आशीर्वाद लेने सड़कों पर निकले हैं।

कांग्रेस यात्रा का नाम क्षमा याचना यात्रा रखे, आक्रोश उनके ही खिलाफ है 

पवैया ने कहा- आशीर्वाद एक विनम्रता से भरा हुआ भाव है, हमने हाथ जोड़े, हमारे ऊपर जनता ने समर्थन के फूल बरसाए, उन्होंने चुटकी लेते हुए कहा अब कांग्रेस ने अपनी यात्रा का नाम रखा है जन आक्रोश यात्रा, तो मध्य प्रदेश में जन आक्रोश किसके खिलाफ है? कांग्रेसियों की दगाबाजी के खिलाफ है? कांग्रेसियों ने जो सनातन संस्कृति और सनातन धर्म का अपमान किया है, I.N.D.I.A ने किया है उसके खिलाफ आक्रोश है, मेरी सलाह कांग्रेस को ये है कि वह अपनी यात्रा का नाम बदलकर क्षमा याचना यात्रा करें, वो मध्य प्रदेश के 95% सनातनियों से क्षमा मांगे जिनकी भावनाओं को उसने जूते तले रौंदा है।

खडगे, कांग्रेस, उदयनिधि रहे पवैया के निशाने पर 

पूर्व सांसद ने जयभान सिंह पवैया ने कहा मल्लिकार्जुन खड़गे ने कर्नाटक में बोला कि अगर मोदी का राज आया तो सनातन धर्म का राज हो जाएगा इसे रोको। उदयनिधि ने बोला सनातनी लोग डेंगू और मलेरिया के मच्छर हैं  इन्हें मसलो, इनको मार डालो, वह कांग्रेस का ही हिस्सा है। मेरा कहना यह है कि क्या मल्लिकार्जुन खड़गे सनातनियों से माफ़ी मांगेंगे? क्या कांग्रेस उदयनिधि स्टालिन की पार्टी से अपना पल्ला झाड़ने को तैयार है? उनसे गठबंधन तोड़ने तैयार है?  अगर तैयार नहीं है तो कांग्रेस को क्षमा याचना यात्रा निकालने के अलावा कोई रास्ता नहीं है।

पवैया ने बताया सोनिया राहुल क्यों नहीं गए राम जन्मभूमि दर्शन करने 

पवैया ने तंज कसते हुए कहा – एक तरफ कथाएं करना, रामनामी डालकर लोगों को छलना दूसरी तरफ कांग्रेस की राजमाता यानी सोनिया गांधी, कांग्रेस के युवराज राहुल गांधी आज तक अयोध्या में राम जन्मभूमि के दर्शन करने नहीं गए, वे केवल अयोध्या में राम जन्मभूमि इसलिए नहीं जा रहे हैं क्योंकि बाबर के समर्थक नाराज हो जाएंगे। करोड़ों हिंदुस्तानियों का सपना पूरा हुआ है आप खुशियां मनाने नहीं जा सकते?

जन आक्रोश यात्रा पर कसा तंज, अपने तरीके से बताई तस्वीर 

उन्होंने कहा कि चूँकि कांग्रेस के पास वोट लेने के लिए कोई मुद्दा नहीं है इसलिए यह कांग्रेस की यात्रा भाड़े की भीड़ की यात्रा साबित होने वाली है, यह कांग्रेस की यात्रा दावेदारों की हिंसक प्रदर्शन को दिखाने वाली यात्रा साबित होगी।  मंचों पर सिर फूट रहे हैं, इसमें प्रदर्शनों की पट्टियां दिखाई जा रही हैं इसलिए पांच जन आशीर्वाद यात्राओं से मुकाबला करना और तुलना करना कांग्रेस के लिए ना मुमकिन है।

सांसद विधूड़ी के बिगले बोल पर कहा , पार्टी ने नोटिस दिया है एक्शन होगा 

पूर्व सांसद जयभान सिंह पवैया ने उनकी पार्टी के सांसद रमेश विधूड़ी द्वारा बीएसपी सांसद दानिश अली संसद में की गई असंसदीय टिप्पणी के सवाल पर कहा कि इस मामले में देश के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह जी ने स्वयं खेद प्रकट कर दिया है लेकिन भारतीय जनता पार्टी के केंद्रीय नेतृत्व ने उन सांसद को नोटिस जारी कर दिया है, उनसे जवाब मांगा है। बीजेपी कभी इस तरह की भाषा की समर्थक नहीं रही है संसद में इस परंपरा को कभी स्वीकार नहीं किया जा सकता है, पार्टी उचित कार्रवाई करने वाली है प्रक्रिया पूर्ण हो रही है।

पवैया ने किया 150 सीट की जीत का दावा 

मप्र के पूर्व मंत्री जयभान सिंह पवैया ने  150 सीटें जीतने के उनके दावे से जुड़े सवाल पर उन्होंने कहा कि मैंने जन आशीर्वाद यात्रा में जिस ज्वार को उठते देखा जिस समर्थन को देखा है मैं उस आधार पर ये दावा कर रहा हूँ और ये सच होगा।

ग्वालियर से अतुल सक्सेना की रिपोर्ट 


About Author
Atul Saxena

Atul Saxena

पत्रकारिता मेरे लिए एक मिशन है, हालाँकि आज की पत्रकारिता ना ब्रह्माण्ड के पहले पत्रकार देवर्षि नारद वाली है और ना ही गणेश शंकर विद्यार्थी वाली, फिर भी मेरा ऐसा मानना है कि यदि खबर को सिर्फ खबर ही रहने दिया जाये तो ये ही सही अर्थों में पत्रकारिता है और मैं इसी मिशन पर पिछले तीन दशकों से ज्यादा समय से लगा हुआ हूँ.... पत्रकारिता के इस भौतिकवादी युग में मेरे जीवन में कई उतार चढ़ाव आये, बहुत सी चुनौतियों का सामना करना पड़ा लेकिन इसके बाद भी ना मैं डरा और ना ही अपने रास्ते से हटा ....पत्रकारिता मेरे जीवन का वो हिस्सा है जिसमें सच्ची और सही ख़बरें मेरी पहचान हैं ....

Other Latest News