Gwalior News : रिश्ते हुए शर्मसार, सौतेला पिता नाबालिग के साथ दुष्कर्म कर फरार

Gwalior News : ग्वालियर में रिश्तों को शर्मसार करने वाली एक घटना सामने आई है। एक नाबालिग के साथ उसके सौतेले पिता ने ही दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया है। पुलिस ने पीड़ित बच्ची की मां और पीड़िता की शिकायत पर आरोपी पर दुष्कर्म और पॉक्सो एक्ट की धाराओं में अपराध पंजीबद्ध करते हुए उसकी तलाश शुरू कर दी है।

घर में नाबालिग बेटी को अकेली देख सौतेला पिता बना हैवान 

जानकारी के अनुसार पिंटो पार्क क्षेत्र में रहने वाली एक नाबालिग के साथ हैवानियत का मामला सामने आया है। पीड़िता 13 साल की नाबालिग है उसकी मां एक व्यक्ति के साथ लिव इन रिलेशनशिप में रहती है जिसके साथ बच्ची भी रहती है। घर में अकेली देख सौतेले पिता ने मासूम के साथ पहले हैवानियत की और उसके बाद जान से मारने की धमकी दे कर उसे खून से लथपथ और दर्द से तड़पती हुई छोड़कर मौके से भाग निकला।

बच्ची ने रोते हुए माँ को सुनाई आपबीती 

मासूम की मां जब घर पहुंची तो पीड़ित मासूम की हालत देखकर सहम गई , बच्ची ने रोते हुये मां को पूरी घटना बताई। बेटी की बात सुनने के बाद मां बेटी थाना गोला का मंदिर पहुंची और सौतेले पिता के खिलाफ दुष्कर्म का मामला दर्ज कराया।  इस मामले में एएसपी क्राइम का कहना है कि घटना के समय  नाबालिग बच्ची की मां किसी काम के सिलसिले में बाजार गई हुई थी,  जब वह घर लौटी तो बच्ची ने रोते हुए अपनी मां को बताया कि वह सौतेले पिता के सामने कई बार गिड़गिड़ाई लेकिन उसने हैवानियत की सारी हदें पार कर दी।

आरोपी पिता फरार, पुलिस ने किया मामला दर्ज  

एडिशनल एसपी ने बताया कि पुलिस ने पीड़ित बच्ची और उसकी माँ की शिकायत पर आरोपी पर दुष्कर्म और पॉक्सो एक्ट की धारा में अपराध पंजीबद्ध किया है, बच्ची को जिला अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है, वहां उसकी हालत में सुधार है, वहीं आरोपी पिता की तलाश करने के लिए टीमें गठित कर दी है जल्दी ही उसकी गिरफ्तारी की जाएगी।

 


About Author
Atul Saxena

Atul Saxena

पत्रकारिता मेरे लिए एक मिशन है, हालाँकि आज की पत्रकारिता ना ब्रह्माण्ड के पहले पत्रकार देवर्षि नारद वाली है और ना ही गणेश शंकर विद्यार्थी वाली, फिर भी मेरा ऐसा मानना है कि यदि खबर को सिर्फ खबर ही रहने दिया जाये तो ये ही सही अर्थों में पत्रकारिता है और मैं इसी मिशन पर पिछले तीन दशकों से ज्यादा समय से लगा हुआ हूँ.... पत्रकारिता के इस भौतिकवादी युग में मेरे जीवन में कई उतार चढ़ाव आये, बहुत सी चुनौतियों का सामना करना पड़ा लेकिन इसके बाद भी ना मैं डरा और ना ही अपने रास्ते से हटा ....पत्रकारिता मेरे जीवन का वो हिस्सा है जिसमें सच्ची और सही ख़बरें मेरी पहचान हैं ....

Other Latest News