Gwalior News : 12 लाख रुपये की स्मैक के साथ दो तस्कर गिरफ्तार

जनवरी से लेकर अभी तक करीब 7 करोड़ रुपये के मादक पदार्थ जब्त किये जा चुके हैं। 

ग्वालियर, अतुल सक्सेना। अवैध मादक पदार्थों के खिलाफ जारी ग्वालियर पुलिस (Gwalior Police) की मुहिम में पुलिस को एक बार फिर सफलता मिली है। पुलिस ने दो अलग अलग जगह कार्रवाई करते हुए दो तस्करों (Two Smuggler) को  गिरफ्तार किया है, तस्करों के कब्जे से 120 ग्राम स्मैक (Smack) जब्त हुई है जिसकी कीमत 12 लाख रुपये बताई गई है।

चार दिन पहले 9 अक्टूबर को ग्वालियर पुलिस ने तीन तस्करों को दो अलग अलग स्थानों से गिरफ्तार कर 20 लाख 50 हजार रुपये की स्मैक जब्त की थी। पिछले कुछ महीनों से अवैध मादक पदार्थों की तस्करी करने वालइ तस्करों के खिलाफ पुलिस ने अभियान चला रखा है, इसी अभियान में बुधवार को पुलिस को फिर बड़ी सफलता मिली।

ये भी पढ़े – नरोत्तम का कटाक्ष- “कांग्रेस के लिए अब एनपी प्रजापति मतलब नॉट परमिटेड”

एसपी अमित सांघी ने पत्रकारों को जानकारी दी कि क्राइम ब्रांच को मुखबिर से सूचना मिली थी कि शहर में स्मैक की खेप आने वाली है। क्राइम ब्रांच ने मुखबिर के बताये स्थान ग्वालियर व्यापार मेला ऑफिस के पास स्टाफ को तैनात कर दिया।  यहाँ एक संदिग्ध व्यक्ति दिखाई दिया, पुलिस को देखते ही उसने भागने का प्रयास किया जिसे पुलिस ने दबोच लिया। इसकी तलाशी लेने पर युवक के पास से 40 ग्राम स्मैक मिली जिसे पुलिस ने जब्त कर तस्कर को गिरफ्तार कर लिया।

ये भी पढ़ें – MP By Election 2021 : दिग्विजय के प्रचार में शामिल नहीं होने पर बोले वीडी – वे जानते हैं लोगों को 2003 याद आ जायेगा

इसके अलावा बुधवार को ही क्राइम ब्रांच ने मुखबिर की सूचना पर एक और कार्रवाई करते हुए बरेठा टोल पर एक संदिग्ध व्यक्ति को धार दबोचा जिसके कब्जे से पुलिस को 80 ग्राम स्मैक मिली।  पुलिस ने स्मैक जब्त कर तस्कर को गिरफ्तार कर लिया।  दोनों तस्करों से पुलिस को 120 ग्राम स्मैक मिली है जिसकी कीमत 12 लाख रुपये बताई गई है।

ये भी पढ़ें – सफलता के मंत्र कार्यक्रम में शिवराज ने बताया मामा का अर्थ

बताया जा रहा है कि गिरफ्तार तस्कर मनीष आर्य सिविल लाइन रीवा का रहने वाला है वहीं दूसरा तस्कर पप्पू उर्फ़ लक्ष्मीनारायण राजा की मंडी आगरा का रहने वाला है। पुलिस तस्करों से कड़ी पूछताछ कर इनके कनेक्शन पता लगा रही है। गौरतलब है कि ग्वालियर पुलिस ने अवैध मादक पदार्थ तस्करों के खिलाफ अभियान चला रखा है, एक हेल्पलाइन नंबर भी जारी किया है जिसके कारण जनवरी से लेकर अभी तक करीब 7 करोड़ रुपये के मादक पदार्थ जब्त किये जा चुके हैं।