हिन्दू महासभा ने खून से लिखा प्रधानमंत्री को पत्र, सावरकर के लिए की ये मांग

हिन्दू महासभा ने एक बार फिर महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे और उनके सहयोगी नारायण आप्टे की प्रतिमा कार्यालय में लगाने की बात दोहराई।

ग्वालियर, अतुल सक्सेना। अखिल भारत हिन्दू महासभा (Hindu Mahasabha) ने गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narndra Modi) को खून से पत्र  (Letter with Blood)लिखकर मांग की है कि वीर सावरकर (Veer Sawarkar) को भारत रत्न (Bharat Ratna) दिया जाये। हिन्दू महासभा ने आरोप लगाए कि भाजपा नेताओं के कारण वीर सावरकर के प्रतिमा स्थल पर तीन साल से ताला लगा है , सावरकर जी को कैद कर रखा है।  हिन्दू महासभा ने वीर सावरकर को तालाबंदी से मुक्त कराने की भी मांग की है।

हिन्दू महासभा ने खून से लिखा प्रधानमंत्री को पत्र, सावरकर के लिए की ये मांग हिन्दू महासभा ने खून से लिखा प्रधानमंत्री को पत्र, सावरकर के लिए की ये मांग

अखिल भारत हिन्दू महासभा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डॉ जयवीर भारद्वाज ने गुरुवार को पार्टी कार्यालय दौलतगंज पर एक कार्यक्रम कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम एक पत्र लिखा है।  ये पत्र कार्यकर्ताओं के खून से लिखा गया है। हिन्दू महासभा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लिखे पत्र में सावरकर को भारत रत्न देने और उनकी प्रतिमा को ताले से खुलवाने की मांग की है।

ये भी पढ़ें – Gwalior News : गायब युवक का शव मिला, परिजनों का हंगामा, हत्या के लगाए आरोप

पत्र लिखने के बाद डॉ जयवीर भारद्वाज ने भाजपा नेताओं और सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि भाजपा वीर सावरकर का अपमान कर रही है उनकी प्रतिमा को पिछले तीन साल से ताले में कैद कर रखा है।  उन्होंने चेतावनी दी कि यदि प्रशासन ने ताला नहीं खोला तो उनकी पार्टी ये काम करेगी। इसके साथ ही हिन्दू महासभा ने एक बार फिर महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे और उनके सहयोगी नारायण आप्टे की प्रतिमा कार्यालय में लगाने की बात दोहराई।

ये भी पढ़ें – Gwalior News : दिवाली पर खपाने के लिए आई 1 लाख से ज्यादा कीमत की अवैध शराब जब्त

हिन्दू महासभा के आरोपों का जवाब देते हुए ग्वालियर के भाजपा सांसद विवेक नारायण शेजवलकर ने कहा कि हिन्दू महासभा क्या कहती है और क्या करती है हमें इससे लेने देना नहीं है। वीर सावरकर की प्रतिमा भाजपा ने ही लगवाई थी इसलिए अपमान की बात ही बेमानी है।  उन्होंने कहा कि वीर सावरकर सरोवर जहाँ प्रतिमा स्थापित है उसका जीर्णोद्धार स्मार्ट सिटी कंपनी कर रही है जैसे ही काम पूरा हो जायेगा, सरोवर का ताला खुल जायेगा , रही बात गांधी जी के हत्यारे को महिमा मंडित करने की तो यदि हिन्दू महासभा ने कुछ गलत किया तो कानून अपना काम करेगा