लापरवाही पर गिरी गाज, दो पंचायत सचिव निलंबित, दो को नोटिस, चार आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं की सेवाएं समाप्त

Atul Saxena
Published on -
mp suspend notice

Gwalior News : जिला पंचायत सीईओ ने लापरवाही पर कड़ा एक्शन लिया है, उन्होंने दो पंचायत सचिवों को निलंबित कर दिया है, दो को कारण बताओ नोटिस जारी किया है और चार आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं की सेवाएं समाप्त कर दी हैं, ये एक्शन मुख्यमंत्री लाड़ली बहना योजना सहित अन्य शासकीय योजनाओं के क्रियान्वयन में बरती गई लापरवाही सामने आने के बाद हुआ है।

चेतावनी भी दे चुके थे जिला पंचायत सीईओ 

ग्वालियर जिला पंचायत के सीईओ विवेक कुमार ने अपनी जॉइनिंग के साथ ही स्पष्ट कर दिया था कि शासकीय योजनाओं के क्रियान्वयन कार्य में किसी भी तरह लापरवाही बर्दाश्त नहीं होगी, बावजूद इसके कुछ शासकीय सेवकों ने उनके इस आदेश को एक सामान्य आदेश मानते हुए अपने लापरवाहीपूर्ण रवैये को जारी रखा जिसकी सजा उन्हें मिली है।

दो पंचायत सचिव निलंबित, दो को नोटिस 

सीईओ विवेक कुमार ने मुख्यमंत्री लाड़ली बहना योजना और अन्य शासकीय योजनाओं में गंभीरता नहीं दिखाने वाले ग्राम पंचायत बारौल के पंचायत सचिव हरिशंकर शर्मा, ग्राम पंचायत लोहगढ़ के पंचायत सचिव कौशल किशोर गुर्जर को निलंबित कर दिया है इसके साथ ही ग्राम पंचायत झाडौली के पंचायत सचिव राम नरेश गुर्जर और रोजगार सहायक चंद्रभान रावत को कारण बताओ नोटिस जारी किये हैं।

चार आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं की सेवाएं समाप्त 

पंचायत सचिवों के खिलाफ एक्शन के अलावा चार आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के खिलाफ कड़ा एक्शन लिया गया है, इनकी सेवाएं समाप्त कर दी गई हैं। महिला एवं बाल विकास विभाग के परियोजना अधिकारियों ने जारी अपने आदेशों में आंगनबाड़ी कार्यकर्ता मियापुर की रेनू श्रीवास्तव, चक्कोरी की पार्वती शाक्य, पुलकापुरा की रजनी शर्मा और कान्सेर की रामसनेही पर लाड़ली बहना योजना के काम में लापरवाही सहित अपनी ड्यूटी से बिना सूचना गायब रहने के गंभीर आरोप लगाते हुए सेवा समाप्त कर दी है।


About Author
Atul Saxena

Atul Saxena

पत्रकारिता मेरे लिए एक मिशन है, हालाँकि आज की पत्रकारिता ना ब्रह्माण्ड के पहले पत्रकार देवर्षि नारद वाली है और ना ही गणेश शंकर विद्यार्थी वाली, फिर भी मेरा ऐसा मानना है कि यदि खबर को सिर्फ खबर ही रहने दिया जाये तो ये ही सही अर्थों में पत्रकारिता है और मैं इसी मिशन पर पिछले तीन दशकों से ज्यादा समय से लगा हुआ हूँ.... पत्रकारिता के इस भौतिकवादी युग में मेरे जीवन में कई उतार चढ़ाव आये, बहुत सी चुनौतियों का सामना करना पड़ा लेकिन इसके बाद भी ना मैं डरा और ना ही अपने रास्ते से हटा ....पत्रकारिता मेरे जीवन का वो हिस्सा है जिसमें सच्ची और सही ख़बरें मेरी पहचान हैं ....

Other Latest News