कोरोना वायरस को लेकर मंत्री ने बैठक में अफसरों को दिए निर्देश

ग्वालियर। अतुल सक्सेना।

प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री तुलसीराम सिलावट ने कहा है कि कोरोना वायरस से निपटने के लिए सभी ऐहतियाती प्रबंध सुनिश्चित किए जाएं। इससे निपटने के लिए सतर्कता आवश्यक है। स्वास्थ्य मंत्री सिलावट ने शुक्रवार को मोतीमहल के मानसभागार में वरिष्ठ अधिकारियों के साथ स्वास्थ्य विभाग की बैठक में यह बात कही है। उनके साथ प्रमुख सचिव स्वास्थ्य पल्लवी जैन गोविल ने भी आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।

कोरोना वायरस से निपटने के लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा किए जा रहे प्रबंधों के संबंध में आयोजित इस बैठक में संभागीय आयुक्त एम बी ओझा, डीआईजी ग्वालियर ए के पाण्डेय एवं डीआईजी चंबल अशोक गोयल, कलेक्टर अनुराग चौधरी, पुलिस अधीक्षक नवनीत भसीन, नगर निगम आयुक्त संदीप माकिन, सीईओ जिला पंचायत शिवम वर्मा, सीईओ स्मार्ट सिटी महिप तेजस्वी, संयुक्त संचालक स्वास्थ्य सेवायें डॉ. दीक्षित सहित स्वास्थ्य विभाग के चिकित्सक एवं विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।

स्वास्थ्य मंत्री सिलावट ने कहा कि कोरोना वायरस से बचाव के लिए सावधानी आवश्यक है। इसके लिए स्वास्थ्य विभाग सतर्क रहे। जहां से भी संभावित लक्षण दिखाई देते हैं तो तुरंत परीक्षण की कार्रवाई कर उपचार शुरू किया जाए। उन्होंने बताया कि केन्द्र सरकार द्वारा वायरस की जांच के लिए पुणे की आईसीएमआर संस्था को अधिकृत किया गया है। अगर आवश्यकता हो तो सेम्पल लेकर इस संस्था को जांच के लिए भेजे जाएं। यह सेम्पल मेडीकल कॉलेज की देखरेख में बायोलॉजी लैब द्वारा भेजे जायेंगे। प्रमुख सचिव श्रीमती पल्लवी जैन गोविल ने कहा कि पिछले दिनों चीन के बुहान शहर में एक नए प्रकार के कोरोना वायरस से निमोनिया के प्रकरण पाए गए हैं। इस वायरस से सर्दी, खाँसी, एमईआरएस तथा एसएआरएस जैसी बीमारियां होती है। इसमें मनुष्य से मनुष्य में संक्रमण फैलने की संभावना होती है। सभी अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डों पर चीन व इस वायरस से प्रभावित देशों से आने वाले यात्रियों की स्क्रीनिंग की जा रही है। प्रदेश के हवाई अड्डों पर भी स्क्रीनिंग का कार्य प्रारंभ हो गया है। ग्वालियर हवाई अड्डे पर भी स्क्रीनिंग का कार्य तत्काल प्रारंभ कराया जाए। उन्होंने बैठक में कहा कि मेडीकल कॉलेज के साथ-साथ सभी अस्पतालों में भी कोरोना वायरस से पीड़ित लोगों के उपचार एवं देखरेख के लिए सभी व्यवस्थाएं सुनिश्चित की जाएं। प्रमुख सचिव श्रीमती गोविल ने बैठक में संभागीय आयुक्त एवं कलेक्टर से कहा कि वे ग्वालियर एवं संभाग के अन्य जिलों में भी कोरोना वायरस से सतर्क रहने तथा सभी आवश्यक प्रबंध करने के संबंध में आवश्यक दिशा-निर्देश जारी करें। इसके साथ ही इसकी निरंतर मॉनीटरिंग भी करें।