आदिम जाति कल्याण विभाग का कनिष्ठ लेखा अधिकारी 1500 की रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार!

आदिम जाति कल्याण विभाग (Tribal Welfare Department) में पदस्थ कनिष्ठ लेखा अधिकारी को 1500 रुपये की रिश्वत (bribe) लेते हुए रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया।

ग्वालियर, अतुल सक्सेना। ग्वालियर (Gwalior) की लोकायुक्त पुलिस (Lokayukta Police) ने आदिम जाति कल्याण विभाग (Tribal Welfare Department) में पदस्थ कनिष्ठ लेखा अधिकारी को 1500 रुपये की रिश्वत (bribe) लेते हुए रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया। कनिष्ठ लेखा अधिकारी आवेदक से डिजिटल सिग्नेचर वैरिफिकेशन के लिए रिश्वत मांग रहा था।

यह भी पढ़ें…जन्म देते ही झाड़ियों में फेंका नवजात, सिंगरौली की घटना

लोकायुक्त पुलिस ग्वालियर के इंस्पेक्टर राघवेंद्र ऋषिश्वर ने बताया कि एच एल सोमानी आई टी आई के कर्मचारी सुशील कुमार ने शिकायत की थी कि कार्यालय सहायक आयुक्त जनजातीय कार्य एवं अनुसूचित जनजाति कल्याण विभाग में पदस्थ कनिष्ठ लेखा अधिकारी राकेश गुप्ता उनसे स्टूडेंट्स की स्कॉलरशिप के लिए सिग्नेचर डिजिटल वैरिफिकेशन के नाम पर 1500 रुपये की रिश्वत मांग रहे हैं। शिकायत दर्ज करने के बाद लोकायुक्त ने सुशील कुमार को एक रिकॉर्डर दिया। जिसमें सुशील कुमार और राकेश गुप्ता के बीच रिश्वत की बातचीत रिकॉर्ड हो गई। आज जब सुशील कुमार रिश्वत देने राकेश गुप्ता को 1500 रुपये देने गए और उन्होंने उस पैसे दिये पहले से तैयार लोकायुक्त ने उसे रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया। लोकायुक्त ने राकेश गुप्ता की जेब से 1500 रुपये बरामद कर लिए।