अब इमरती देवी बोली- सिंधिया जी, यदि झाडू भी पकड़ा देंगे तो भी खुश रहूंगी

Kamal-Nath's-Minister-Imti-Devi-Bid---Scindia-ji

ग्वालियर। 

बीते दिनों सिंधिया को भगवान का दर्जा देने वाली नवनियुक्त मंत्री इमरती देवी ने फिर बड़ा बयान दिया है। इमरती देवी का कहना है कि पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया जी ने ही उन्हें कैबिनेट मंत्री बनाया और फिर महिला एवं बाल विकास विभाग की जिम्मेदारी दिलवाई। यदि वे उन्हें झाड़ू भी पकड़ा देंगे तो भी मैं खुश रहूंगी।बताते चले कि ज्योतिरादित्य सिंधिया गुट की मानी जाने वाली इमरती देवी ग्वालियर जिले के डाबरा निर्वाचन क्षेत्र की तीसरी बार विधायक बनी हैं।

दरअसल, शनिवार देर शाम प्रदेश की महिला एवं बाल विकास मंत्री इमरती देवी ने शहर में आभार यात्रा निकाली थी ।इस दौरान पत्रकारों से चर्चा करते हुए कहा इमरती देवी ने कहा कि ये विभाग उन्हें पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया जी ने दिलवाया है, यदि वे उन्हें झाड़ू भी पकड़ा देंगे तो भी मैं खुश रहूंगी।साथ ही उन्होंने कहा कि विभाग के बारे में पूरी जानकारी लेने के साथ ही वरिष्ठ लोगों के मार्गदर्शन में काम करेंगी ताकि हर जरूरत मंद को उनके विभाग की योजनाओ का लाभ मिल सके।  

सिंधिया मेरे भगवान्, मैं उनकी पूजा करती हूँ

बता दे कि कमलनाथ मंत्रिमंडल में ग्वालियर चम्बल संभाग से छह विधायक मंत्री बनाये गए हैं, जिनमें लहार से डॉ. गोविन्द सिंह, बमौरी से ब्रजेन्द्र सिंह सिसोदिया, राधोगढ से जयवर्धन सिंह, भितरवार से लाखन सिंह यादव सिंह, डबरा से इमरती देवी और ग्वालियर विधानसभा से प्रद्युम्न सिंह तोमर को मंत्री बनाया गया है।  बीते दिनों इमरती देवी ने अपने बयान में कहा था कि वे सिंधिया गुट से आती जरूर हैं लेकिन सिंधिया उनके नेता नहीं हैं भगवान हैं, इमरती देवी ने कहा था कि वे सिंधिया जी की पूजा करती है। 

कौन हैं इमरती देवी

इमरती देवी दतिया जिले की डबरा से विधायक है। वो लगातार तीन बार से चुनाव जीत रही हैं। इमरती देवी को ज्योतिरादित्य सिंधिया खेमे का माना जाता है। सूत्रों का कहना है कि ज्योतिरादित्य सिंधिया के कहने पर ही इमरती देवी को मंत्री बनाया गया है। कमलनाथ कैबिनेट में उन्हें महिला एवं बाल विकास मंत्री बनाया गया है।बताते चले कि कमलनाथ मंत्रिमंडल में क्षेत्रीय संतुलन के साथ ही गुटीय संतुलन बनाया गया है। कमलनाथ खेमे से 10, दिग्विजय खेमे से 7 और सिंधिया खेमे से 6 विधायकों को मंत्री बनाया गया है। 

इधर, प्रदुम्न सिंह तोमर ने भी ऑफिस में लगाई सिंधिया की फोटो

मध्यप्रदेश में सरकार बनते ही एक बार फिर से खेमेबाजी देखने को मिल रही है। मंत्रालय में पदभार ग्रहण करने पहुंचे खाद्य मंत्री प्रदुम्न सिंह तोमर का स्टॉफ अपने साथ ज्योतिरादित्य सिंधिया का फोटो लेकर पहुंचा। यह फोटो मंत्री की कुर्सी के ठीक पीछे लगाई गई है। मंत्रालय पहुंचे मंत्री से जब मीडिया ने फोटो के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, सोनिया गांधी, महात्मा गांधी और मुख्यमंत्री कमलनाथ की फोटो भी मंगाई गई हैं, यह फोटो भी कमरे में लगाई जाएंगी। दरअसल, प्रदुम्न सिंह तोमर कांग्रेस  सिंधिया गुट के माने जाते हैं।  सिंधिया ने ही तोमर का नाम विधानसभा चुनाव में टिकट के लिए आगे किया था। ज्योतिरादित्य सिंधिया ने तोमर के लिए खूब प्रचार भी किया था। बता दें कि प्रदुम्मन सिंह तोमर दूसरी बार विधायक बने हैं। प्रदुम्न सिंह तोमर ने अपने ऑफिस में सबसे पहले माधवराव सिंधिया का फोटो लगाया और उसके उन्होंने ज्योतिरादित्य सिंधिया का फोटो लगाया।