सिंधिया के साथ सांसद, विधायकों को शहर विकास से जुड़ा प्रजेंटेशन दिखाने की तैयारी

ग्वालियर। ग्वालियर जिले का राजनैतिक परिदृश्य दूसरी जगहों से  बहुत अलग है। यहां सांसद भाजपा के हैं, जबकि 6 विधानसभा सीटों में से पांच पर कांग्रेस विधायक हैं जिनमें से तीन मंत्री हैं जबकि एक विधायक भाजपा से हैं इसलिए जब भी विकास की बात होती है तो मामला पक्ष विपक्ष के बीच उलझकर रह जाता है। पिछली बार कांग्रेस महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया के निर्देश पर प्रशासनिक अमला जयविलास पैलेस विकास योजनाओं पर चर्चा करने पहुंचा था जिसपर भाजपा ने कड़ा एतराज जताया था। इसलिए इस बार प्रशासन सभी को साथ बैठाकर प्रजेंटेशन दिखाने की तैयारी में है । बैठक 20 नवम्बर को प्रस्तावित है।

शहर विकास के लिए पांच करोड़ रुपए के काम प्रस्तावित हैं ।  जिनको अमलीजामा पहनाया जाना है। लेकिन भाजपा और कांग्रेस नेताओं के बीच सामंजस्य नहीं बैठ पाने के कारण ये अटके हुए हैं। इसलिए इस बार जिला प्रशासन ने दोनों दलों के वरिष्ठ नेताओं को साथ बैठाकर इसपर एक राय बनाने का प्रयास कर रहा है। गौरतलब है कि पिछली बार सिंधिया के निर्देश पर प्रशासनिक अफसर जयविलास पैलेस में विकास से जुडी योजनाओं की फ़ाइल लेकर चले गए थे जिसपर भाजपा ने कड़ी  आपत्ति दर्ज कराई थी लेकिन इस बार वो गलती दोहराना नहीं चाहता। इसलिए बुधवार 20 नवम्बर को प्रस्तावित बैठक में रिंग रोड, एलिवेटेड रोड, सड़कों के निर्माण, मार्क हॉस्पिटल, ट्रैफिक मैनेजमेंट,स्वच्छता आदि जैसे कई कामों का प्रजेंटेशन सब जन प्रतिनिधियों के सामने दिया जायेगा। एडीएम किशोर कान्याल के मुताबिक इस बैठक के लिए उन्होंने स्वयं सांसद विवेक शेजवलकर और सत्ता पक्ष के सभी विधायकों और भाजपा विधायक भारत सिंह को आमंत्रित किया है। बैठक में कांग्रेस महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया विशेष रूप से मौजूद रहेंगे। बैठक में जिला प्रशासन 28 बिन्दुओं पर तैयार प्रजेंटेशन प्रस्तुत करेगा।