लव जिहाद मामला : युवती ने एसपी से मांगी सुरक्षा, अब महिला थाना करेगा विवेचना

लव जिहाद का शिकार हुई युवती ने मीडिया के सामने जब अपनी पीड़ा सुनाई तो उसके आंसू नहीं थम रहे थे।

ग्वालियर, अतुल सक्सेना। ग्वालियर जिले की डबरा तहसील में कल रविवार को सामने आये लव जिहाद (Love Jihad) के सनसनीखेज मामले की पीड़िता ने आज सोमवार को ग्वालियर एसपी ऑफिस पहुंचकर एसएसपी अमित सांघी (Gwalior SSP Amit Sanghi)  से मुलाकात की। पीड़िता ने डबरा थाने में विवेचना की परेशानी बताते हुए ग्वालियर (Gwalior News) में विवेचना का निवेदन किया। पीड़िता ने अपने ससुराली जनों से जान का खतरा बताते हुए एसएसपी सुरक्षा की मांग की। एसएसपी अमित सांघी ने पीड़िता को पुलिस सुरक्षा का भरोसा दिया और पीड़िता से जुड़े मामले की सुनवाई डबरा सिटी थाने की जगह ग्वालियर महिला थाने को करने के आदेश दिए।

डबरा (Dabra News) के जंगीपुरा में रहने वाले इमरान ने अपना नाम और धर्म छिपाकर खुद को राजू जाटव बताया और ग्वालियर के गोल पहाड़िया पर रहने वाली एक युवती  से शीतला माता मंदिर में शादी कर ली। लेकिन जब वो युवती को अपने घर ले गया तो  उसे पता चला कि वो राजू नहीं इमरान है। इसके बाद शुरू हुआ अत्याचारों का सिलसिला, उसका धर्म परिवर्तन कराकर निकाह कराया गया, पति सहित दो देवरों और शादी कराने वाले मौलाना ने उसके साथ दुष्कर्म किया। सास ने कमरे में बंधक बनाकर रखा, बाहरी पुरुषों से दुष्कर्म कराया। किसी तरह इनके चंगुल से छूटकर ग्वालियर पहुंची युवती ने महिला थाने पहुंचकर शिकायत दर्ज कराई।

ये भी पढ़ें – उज्जैन लोकायुक्त की बड़ी कार्रवाई, महिला TI 29000 की रिश्वत लेते रंगेहाथों गिरफ्तार

शिकायत दर्ज होने के बाद मामला महिला थाने से डबरा सिटी थाने भेजा गया, डबरा थाना पुलिस ने कल रविवार को युवती को पूछताछ के लिए  डबरा बुलाया और उसके साथ पूछताछ की, उसे घटना स्थल पर भी ले गए।  इस दौरान पुलिस ने पांच नामजद आरोपियों राजू उर्फ़ इमरान, युवती की सास सुग्गा बेगम, देवर अमन, देवर पुन्नी और मौलाना ओसामा और दो अन्य में से दो को गिरफ्तार कर लिया।  डबरा में पूछताछ के दौरान युवती को अपनी जान का खतरा महसूस हुआ।

ये भी पढ़ें – IRCTC एक बार फिर दे रहा लेह लद्दाख की खूबसूरती देखने का मौका, जल्दी करें अपनी सीट बुक

आज सोमवार को युवती अपने वकील के साथ एसएसपी अमित सांघी से मिलने एसपी ऑफिस पहुंची। पीड़िता ने डबरा में पुलिस पूछताछ के दौरान हुई परेशानी और हत्या की आशंका को जाहिर किया और आवेदन दिया कि उसके प्रकरण की सुनवाई ग्वालियर में की जाये और उसे पुलिस की सुरक्षा दिलाई जाये, क्योंकि अभी कुछ आरोपी बाहर हैं वो उसकी हत्या कर सकते हैं। लव जिहाद का शिकार हुई युवती ने मीडिया के सामने जब अपनी पीड़ा सुनाई तो उसके आंसू नहीं थम रहे थे।

ये भी पढ़ें – पांच बार हनुमान चालीसा पाठ पर शिवराज के मंत्री का बड़ा बयान, पूजा में भी स्टाइल बदल रहा है

एसएसपी अमित सांघी ने पीड़िता को सुनने के बाद उसके प्रकरण की विवेचना ग्वालियर में महिला थाने में कराने के आदेश दिए साथ ही पीड़िता को भरोसा दिलाया कि जबतक सभी आरोपी गिरफ्तार नहीं किये जाते तब तक पुलिस उसकी सुरक्षा का ध्यान रखेगी।