महाराज बाड़े फुटपाथ दुकानदारों के बीच पहुंचे विधायक, कहा- व्यवस्था में सहयोग करोगे तो नहीं हटोगे यहां से

mla-took-view-of-footpath-market-in-gwalior-

ग्वालियर। ग्वालियर दक्षिण विधायक प्रवीण पाठक ने सोमवार की रात महाराज बाड़ा क्षेत्र में फुटपाथ पर व्यवसाय करने वालों के बीच पहुंचे । उन्होंने सुभाष मार्केट, नजरबाग मार्केट सहित अन्य मार्केटों के सामने फड़ (पटा) लगाकर व्यवसाय करने वाले फुटपाथी दुकानदारों से कहा कि आप लोग ऐसी व्यवस्था बनाएं जिससे मार्केट में आने जाने वाले ग्राहकों को कोई परेशानी न हो और ना ही महाराज बाड़े पर ट्रेफिक व्यवस्था गड़बड़ाए । वरना उन्हें यहां से हॉकर्स जोन में शिफ्ट होने पड़ेगा। 

महाराज बाड़े पर ट्रेफिक में बाधा बन रहे और मार्केट में आने जाने वाले ग्राहकों के लिए परेशानी का सबब बनने वाले फुटपाथी दुकानदारों को यहां से हटाने के प्रयास कई बार किए गए लेकिन तमाम कोशिशों के बाद भी फुटपाथी दुकानदार बाड़े से हॉकर्स जोन में शिफ्ट होने को तैयार नहीं हुए । हालांकि इन छोटे दुकानदारों ने कई बार पुलिस और नगर निगम की अवैध वसूली की शिकायत भी की लेकिन फिर भी वे यहां पर पग धंधा करना चाहते हैं। दुकानदारों की समस्या को समझने और उनसे सहयोग की बात करने बीती रात ग्वालियर दक्षिण विधायक प्रवीण पाठक महाराज बाड़े पहुंचे और दुकानदारों से कहा कि अब आगे से न तो पुलिस की वसूली होगी और न ही नगर निगम की वसूली होगी  लेकिन मार्केट में आने जाने नाले ग्रहकों  को निकलने में कोई तकलीफ न हो साथ ही फुटपाथ कारोबारी हद में रहकर अपना कारोबार व्यवस्थित तरीके से करें जिससे महाराज बाड़े का ट्रेफिक भी सुचारू रूप से चलता रहे। विधायक प्रवीण पाठक जब नजर बाग मार्केट पहुंचे तो वहां पर मार्केट के दुकानदारों की गाड़ियां बीच में लगी हुई थी,  विधायक ने उन दुकानदारों से भी कहा कि गाड़ियों को हटाकर रास्ता साफ करें जिससे आने जाने वाले ग्राहकों को सुविधा हो। विधायक प्रवीण पाठक जब फुटपाथ  कारोबारियों के बीच पहुंचे तो मालूम चला कि वहां पर कई लोग ऐसे हैं  जिन्होंने बाड़े पर जगह कब्जा रखा है यानि उनके पास पांच से लेकर 20 तक फड़ (पटे) हैं जिन्हें वो किराए पर देकर कारोबार कर रहे हैं ये सब सुनने के बाद विधायक श्री पाठक ने सख्त लहजे में कहा कि जो मौके पर दुकान या फड़ लगा रहे हैं वही यहां कार्य कर पाएंगे ठेकेदारी व्यवस्था आगे से नहीं चल पाएगी । उन्होंने फुटपाथ दुकानदारों से कहा कि वे व्यवस्था बनाएं दो दिन बाद वे खुद चैक करने आएंगे यदि व्यवस्था नहीं सुधरी तो फिर सबको हॉकर्स जोन में शिफ्ट करने पर विचार होगा।