MP Election 2023 : BJP की चार सूची के बाद भी ग्वालियर-चंबल की 15 सीटों पर फंसा पेंच, कांग्रेस ने कसा तंज

Atul Saxena
Published on -

MP Election 2023 : मप्र में विधानसभा चुनाव की तैयारियों के बीच भारतीय जनता पार्टी अब तक चार सूची जारी कर चुकी है जिसमें मप्र की 230 विधानसभा सीटों में से 136 पर उम्मीदवारों की घोषणा कर हो चुकी है, इन चार सूचियों में ग्वालियर चंबल संभाग की 34 सीटों में से 19 सीटों पर प्रत्याशी घोषित हो चुके लेकिन शेष बची 15 सीटों पर पेंच फंसा है, इन सीटों पर कहीं पूर्व मंत्री दम दिखा रहे हैं तो कहीं सांसद, इतना ही नहीं, केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर और केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के प्रभाव वाला क्षेत्र होने के कारण उनके समर्थक भी जोर लगा रहे हैं। नामों की घोषणा नहीं होने पर कांग्रेस तंज कस  रही है।

ग्वालियर चंबल की 34 में से 19 सीटों पर प्रत्याशी तय, 15 पर इंतजार 

भाजपा नेतृत्व ने पिछले दिनों चार सूचियाँ जारी की , पहली और दूसरी सूची में 39 , 39 नाम थे , तीसरी सूची में एक नाम और चौथी सूची में 57 नाम शामिल थे , इसमें ग्वालियर चंबल संभाग की 19 सीटों पर भी नाम सामने आये जिसमें कुछ मौजूदा मंत्री, कुछ विधायक सहित कुछ पहले से संभावित और तय नाम सामने आये, लेकिन जो 15 सीटें बचीं उसमें कई पूर्व मंत्री, केंद्रीय मंत्री और मौजूदा सांसद ताल ठोक रहे हैं ।

कई पूर्व मंत्री कर रहे टिकट की दावेदारी, चर्चा में ये नाम 

भाजपा नेतृत्व को ग्वालियर चंबल संभाग की जिन 15 विधानसभा सीटों पर उम्मीदवार तय करने हैं उन सीटों पर पूर्व मंत्री अनूप मिश्रा, पूर्व मंत्री जयभान सिंह पवैया , पूर्व  मंत्री नारायण सिंह कुशवाह, पूर्व मंत्री माया सिंह सहित पूर्व विधायक एवं कैबिनेट मंत्री दर्जा प्राप्त मुन्ना लाल गोयल के नाम के अलावा आधा दर्जन नेताओं के नाम पर शामिल हैं। इतने नामों के कारण ही इन सीटों पर पेंच फंसा हुआ है।

केंद्रीय मंत्री सिंधिया सहित इन सांसदों के नाम भी चर्चा में 

इन पूर्व मंत्रियों के साथ साथ कुछ मौजूदा सांसदों के नाम पर विधानसभा चुनाव लड़ने के लिए चर्चा में हैं,  ग्वालियर सांसद विवेक नारायण शेजवलकर, गुना शिवपुरी सांसद केपी यादव और भिंड सांसद संध्या राय के नाम को लेकर चर्चा है कि पार्टी इन्हें उम्मीदवार बना सकती है उधर केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर को टिकट दिए जाने के बाद से चर्चा जोरों पर है कि भाजपा केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया को भी विधानसभा के मैदान में भेज सकती है ।

बड़े नामों के बीच मूल कार्यकर्ता परेशान 

इन सब बड़े नामों की चर्चा के बीच मूल कार्यकर्ता परेशान है, ग्वालियर चंबल में एक बड़ा संकट सिंधिया समर्थक और नरेंद्र नरेंद्र सिंह तोमर समर्थक भी हैं, अंचल के दोनों बड़े नेता अपने अपने समर्थकों को अधिक से अधिक टिकट दिलाने के प्रयास में हैं इसलिए भी मामला फंसा हुआ है।

कांग्रेस ने कसा तंज, विधायक बोले गुटों में बंटी है भाजपा 

हालाँकि कांग्रेस अब तक कोई भी सीट पर अपना प्रत्याशी घोषित नही कर सकी है और उम्मीद है कि कल 15 अक्टूबर को कांग्रेस की पहली सूची जारी होगी लेकिन  कांग्रेस भाजपा पर तंज कस रही है। ग्वालियर पूर्व विधानसभा सीट से कांग्रेस विधायक सतीश सिकरवार का कहना है कि गुटों में बंटी भाजपा में अंतरद्वंद्व है, शिवराज भाजपा, महाराज भाजपा और नाराज भाजपा में उलझी भाजपा इसीलिए सीटों की घोषणा नहीं कर पा रही , उन्होंने दावा किया कि जनता कांग्रेस के साथ है और जनता ही कांग्रेस का चुनाव लड़ रही है।

कांग्रेस के तंज पर भाजपा ने किया पलटवार 

उधर भाजपा ने कांग्रेस को जवाब दिया , शिवराज सरकार के उद्यानिकी राज्य मंत्री एवं ग्वालियर ग्रामीण विधानसभा से पार्टी प्रत्याशी भारत सिंह कुशवाह ने कहा जो डर के कारण एक भी एक टिकट घोषित नहीं कर पाए वो ऐसी बात कर रहे हैं, उमीदवार घोषित करना एक प्रक्रिया है , जो सीटें बची हैं वहां जल्दी प्रत्याशी घोषित होंगे ।

एक नजर अब तक की स्थिति पर 

  •  पहली सूची में ग्वालियर-चंबल की छह सीटों पर घोषणा की गयी थी, जिसमें मुरैना जिले की सबलगढ़ सीट से सरला विजेंद्र राव और सुमावली सीट से एंदल सिंह कंसाना, भिंड जिले की गोहद सीट से पूर्व मंत्री लाल सिंह आर्य, शिवपुरी की पिछोर सीट से प्रीतम लोधी, गुना जिले की चाचौड़ा सीट से पार्टी ने प्रियंका मीणा और अशोकनगर की चंदेरी सीट पर पार्टी ने जगन्नाथ सिंह रघुवंशी को टिकट दिया है।
  •  दूसरी सूची में 9 सीटों की घोषणा की गयी थी इसमें केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर को मुरैना जिले की दिमनी विधानसभा सीट, मुरैना सीट से रघुराज कंसाना, श्योपुर से दुर्गालाल विजय, भिंड जिले की लहार सीट से अमरीश शर्मा, ग्वालियर जिले की भितरवार सीट से मोहन सिंह राठौर, डबरा सीट से पूर्व मंत्री इमरती देवी, शिवपुरी जिले की सेंवढ़ा सीट से प्रदीप अग्रवाल, करैरा  सीट से रमेश खटीक और गुना जिले के राधौगढ़ सीट से हिरेंद्र सिंह बंटी को मैदान में उतारा है ।
  •  तीसरी सूची में ग्वालियर-चंबल से कोई नाम नहीं ।
  • चौथी सूची में ग्वालियर चंबल संभाग की चार सीटों पर प्रत्याशी घोषित हुए इनमें ऊर्जा मंत्री प्रधुम्न सिंह तोमर को ग्वालियर विधानसभा से, उद्यानिकी राज्य मंत्री भारत सिंह कुशवाह को ग्वालियर ग्रामीण विधानसभा, सहकारिता मंत्री अरविंद भदौरिया को भिंड जिले  की अटेर सीट से और गृह मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा को दतिया विधानसभा सीट से टिकट दिया गया है।

बहरहाल राजनीतिक पंडितों के अलावा ग्वालियर चंबल की आम जनता भी इन 15 सीटों पर भाजपा के प्रत्याशियों का इंतजार का ररही है साथ ही सभी को कांग्रेस के प्रत्याशियों का भी इंतजार है, देखना होगा कि केंद्रीय मंत्री सिंधिया सहित जिन सांसदों और पूर्व मंत्रियों के नाम चर्चा में है कि उनमें से भाजपा कितनों को उम्मीदवार बनाती है।

ग्वालियर से अतुल सक्सेना की स्पेशल रिपोर्ट 


About Author
Atul Saxena

Atul Saxena

पत्रकारिता मेरे लिए एक मिशन है, हालाँकि आज की पत्रकारिता ना ब्रह्माण्ड के पहले पत्रकार देवर्षि नारद वाली है और ना ही गणेश शंकर विद्यार्थी वाली, फिर भी मेरा ऐसा मानना है कि यदि खबर को सिर्फ खबर ही रहने दिया जाये तो ये ही सही अर्थों में पत्रकारिता है और मैं इसी मिशन पर पिछले तीन दशकों से ज्यादा समय से लगा हुआ हूँ.... पत्रकारिता के इस भौतिकवादी युग में मेरे जीवन में कई उतार चढ़ाव आये, बहुत सी चुनौतियों का सामना करना पड़ा लेकिन इसके बाद भी ना मैं डरा और ना ही अपने रास्ते से हटा ....पत्रकारिता मेरे जीवन का वो हिस्सा है जिसमें सच्ची और सही ख़बरें मेरी पहचान हैं ....

Other Latest News