ग्वालियर से शुरू हुई ‘मुख्यमंत्री आशीर्वाद योजना’ पूरे प्रदेश में होगी लागू

ग्वालियर प्रवास के दौरान मुख्यमंत्री ने दोपहर का भोजन सफाईकर्मी रामसेवक के घर किया। उनके साथ केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर, राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया, भाजपा जिलाध्यक्ष कमल माखीजानी सहित अन्य जन-प्रतिनिधियों ने भी भोजन किया।

ग्वालियर, अतुल सक्सेना| मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) रविवार को सुबह ग्वालियर (Gwalior) पहुंचे। उनके साथ में राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) भी थे। सीएम ने ग्वालियर व्यापार मेला कार्यालय पहुंचकर यहां मेला कार्यालय का शुभारंभ किया। इस दौरान सीएम ने “मुख्यमंत्री आशीर्वादयोजना” का भी शुभारंभ किया।

मुख्यमंत्री ने कहा असहाय बुजुर्ग एवं दिव्यांगों को घर पर ही राशन मुहैयाकराने के लिये ग्वालियर जिला प्रशासन ने “मुख्यमंत्री आशीर्वाद योजना” के रूप में सराहनीय पहल की है। ग्वालियर जिले की इस पहल को बतौर मॉडल पूरे प्रदेश में लागू किया जायेगा। कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने बताया कि आशीर्वाद योजना के तहत ग्वालियर जिले में 3 हजार 607 बुजुर्ग एवं दिव्यांगों के घर पर शासकीय उचित मूल्य की दुकान से राशनपहुँचाया जायेगा। उन्होंने बताया कि 65 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के असहाय बुजुर्गों कोइस योजना में शामिल किया गया है।

सफाईकर्मी के घर किया भोजन
ग्वालियर प्रवास के दौरान मुख्यमंत्री ने दोपहर का भोजन सफाईकर्मी रामसेवक के घर किया। उनके साथ केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर, राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया, भाजपा जिलाध्यक्ष कमल माखीजानी सहित अन्य जन-प्रतिनिधियों ने भी भोजन किया। गुड़ी गुढ़ा का नाका नादरिया माता मंदिर के पास रहने वाले रामसेवक नगर निगम में सफाईकर्मी हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने रामसेवक के परिवार की जानकारी ली और उनका हाल-चाल जाना। उन्होंने रामसेवक को मकान की मरम्मत के लिए रेडक्रॉस से 20 हजार रुपये का चैक भी प्रदान किया।