नये कलेक्टर के कड़े तेवर, जारी रहेगी एंटी माफिया मुहिम, कोई नहीं बचेगा

अतुल सक्सेना//ग्वालियर।

बदलते सियासी घटनाक्रम के बीच ग्वालियर कलेक्टर बनाये गए कौशलेंद्र विक्रम सिंह ने अपने कड़े तेवर दिखाने शुरू कर दिए हैं । पदभार ग्रहण करने के बाद मीडिया से बात करते हुए कलेक्टर कौशलेंद्र विक्रम सिंह ने दो टूक कहा कि जो एंटी माफिया मुहिम रुकी हुई थी उसकी समीक्षा कर उस जारी रखा जायेगा। उन्होंने कहा कि माफिया कोई भी हो उस बक्शा नहीं जायेगा। खनन माफिया पर बकाया करोड़ों की राशि वसूलने के सवाल पर उन्होंने कहा कि मैं खनिज अधिकारी से पूरी डिटेल निकलवा लेता हूँ। उन्होंने कहा कि ग्वालियर का विकास मेरी प्राथमिकता रहेगी। सरकार की योजनाओं और बुनियादी सुविधाओं को जनता तक पहुंचाना मेरा लक्ष्य रहेगा।

गौरतलब है कि ज्योतिरादित्य सिंधिया ने बुधवार को भाजपा का दामन थामने के तुरंत बाद कमलनाथ सरकार ने बड़ी प्रशासनिक सर्जरी करते हुए 11 अधिकारियों के तबादले कर दिये थे जिसमें अच्छा काम कर रहे ग्वालियर कलेक्टर अनुराग चौधरी को हटा दिया था। वे बेटे के इलाज के लिए छुट्टी पर हैं बावजूद इसे नये कलेक्टर कौशलेंद्र विक्रम सिंह को बुधवार की देर शाम को ही एकतरफा जॉइन करा दिया गया। बताया जा रहा है कि अनुराग चौधरी सिंधिया की पसंद है। अब चूंकि वे कांग्रेस में नहीं इसलिए सरकार ग्वालियर में अपनी पसंद के अधिकारी भेज रही है।