सोशल मीडिया पर कुछ इस तरह लोगों को जागरूक कर रही ग्वालियर पुलिस

ग्वालियर।अतुल सक्सेना।

कोरोना से बचने के उपाय दूसरों तक पहुंचाने के लिए सरकारी मशीनरी, समाज सेवी संस्थाएँ एवं जागरूक लोग सभी माध्यमों का उपयोग कर रही हैं। इसी बीच ग्वालियर पुलिस ने सोशल मीडिया पर नई पहल की है। आईजी और एसपी जैसे बड़े अधिकारी ना सिर्फ कोरोना वारियर्स को धन्यवाद का रहे हैं बल्कि लोगों को स्लोगन लिखकर कोरोना से बचाव के लिए जागरूक कर रहे हैं।

21 दिन के लॉक डाउन का कड़ाई से पालन कराने के लिए पुलिस और जिला प्रशासन सभी तरह के प्रयास कर रहा है और इसके लिए सबसे बड़ा प्लेट फॉर्म है सोशल मीडिया। ग्वालियर पुलिस इसका भरपूर फायदा उठा रही है। पुलिस के आला अधिकारी सोशल मीडिया पर पोस्टर पोस्ट कर रहे हैं और इसमें स्लोगन लिखकर लोगों को जागरूक और प्रेरित कर रहे हैं । ग्वालियर रेंज के आईजी(एडीजीपी) राजाबाबू सिंह ने अपने फोटो के साथ एक पोस्टर सेंड किया हैं जिसमें उन्होंने लिखा “कोरोना वायरस से ना घबराएं, खुद बचें और सबको बचाएं”। इसे साथ ही उन्होंने पुलिस कैप, डॉक्टर का इस्टेथोस्कोप और सफाईकर्मी की झाड़ू का चित्र बनाकर उस पर सेल्यूट लिखा है।

आई जी के पोस्ट के अलावा एसपी नवनीत भसीन भी लगातार सोशल मीडिया पर पोस्ट कर रहे हैं। उन्होंने अपने फोटो के पोस्टर के साथ लिखा है “हाथ धोना, जिंदगी से हाथ धोने से बेहतर है, एहतियात करें,क्योंकि एहतियात इलाज से बेहतर है” एक अन्य पोस्ट में एसपी ने लिखा कि “घर में रहना, आईसीयू में रहने से बेहतर है” एहतियात करें, क्योंकि एहतियात इलाज से बेहतर है”। ” घर में रहें, सुरक्षित रहें”। पुलिस की इस मुहिम को लोग बहुत सराह रहे हैं।