ग्वालियर ।  प्रदेश में चल रहे एन्टी माफिया अभियान के तहत ग्वालियर जिले में भी इस अभियान में प्रभावी कार्रवाई की गई है। कलेक्टर अनुराग चौधरी ने वन संरक्षक, नगर निगम आयुक्त संदीप माकिन एवं जिले के सभी राजस्व अधिकारियों से अभियान के तहत की गई कार्रवाई की जानकारी प्रस्तुत करने के लिए पत्र लिखा है।  इसके अलावा समय पर कार्रवाई की जानकारी उपलब्ध नहीं कराने पर 9 अधिकारियों को कारण बताओ नोटिस जारी किए हैं। 

कलेक्टर अनुराग चौधरी ने 9 विभागीय अधिकारियों को समय पर जानकारी न देने पर कारण बताओ नोटिस जारी किया है। उनमें उपायुक्त सहकारिता ग्वालियर ए के शुक्ला, क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी एम पी सिंह, जिला शिक्षा अधिकारी विकास जोशी, जिला आपूर्ति नियंत्रक खाद्य विभाग चंद्रभान सिंह जादौन, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला केन्द्रीय सहकारी बैंक आर बी एस ठाकुर, सहायक आयुक्त आबकारी विभाग  रविन्द्र मानिकपुरी, खनिज अधिकारी  गोविंद शर्मा, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मृदुल सक्सेना तथा पदाविहित अधिकारी खाद्य सुरक्षा ग्वालियर श्रीमती पुष्पा पुषाम शामिल हैं। कलेक्टर अनुराग चौधरी ने जिले के सभी अनुविभागीय अधिकारी राजस्व को पत्र लिखकर कहा है कि एन्टी माफिया अभियान के तहत शासकीय भूमि के संरक्षण में की गई कार्रवाई, अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई, माफी औकाफ भूमियों के संरक्षण में की गई कार्रवाई, अवैध कॉलोनाइजरों के विरूद्ध की गई कार्रवाई, पट्टाधारियों के संरक्षण में की गई कार्रवाई, भू माफियाओं, नोटरी एवं रजिस्ट्री माफिया के विरूद्ध की गई कार्रवाई की जानकारी शीघ्र प्रस्तुत करें। कलेक्टर ने वन संरक्षक को भी पत्र लिखकर वन भूमियों के अतिक्रमण के विरूद्ध की गई कार्रवाई, वन जीव संरक्षण के संबंध में विभाग द्वारा की गई कार्रवाई के साथ-साथ अवैध आरा मशीन, लकड़ी माफियाओं के विरूद्ध की गई कार्रवाई तथा वन भूमि पर खनिज का अवैध उत्खनन एवं परिवहन के विरूद्ध की गई कार्रवाई की जानकारी देने के संबंध में कहा है। उन्होंने नगर निगम आयुक्त संदीप माकिन को भी एन्टी माफिया अभियान के तहत नगर निगम सीमा क्षेत्र में अब तक कितने प्रकरणों में एफआईआर दर्ज की गई है, कितना अर्थदण्ड वसूल किया गया है, कितनी अनुमतियां निरस्त की गई हैं, इसके साथ ही कितने प्रकरणों में जांच समितियां गठित कर कार्रवाई की जा रही है, के संबंध में शीघ्र जानकारी प्रस्तुत करने के लिए पत्र लिखा है।