तोड़फोड़ से गुस्साई NSUI ने गुरु रंधावा कार्यक्रम के आयोजकों पर की FIR की मांग

NSUI-demands-FIR-on-organizers-of-Guru-Randhawa-program

ग्वालियर।  जीवाजी विश्व विद्यालय में बीती रात पंजाबी सिंगर गुरु रंधावा के कार्यक्रम में हुए हंगामे के बाद आज NSUI ने जीवाजी विश्व विद्यालय का घेराव  कर दिया।  छात्र संगठन नेताओं ने  कहा कि हमने कुलपति और विश्व विद्यालय प्रबंधन को पहले ही चेतावनी दी थी लेकिन उन्होंने हमारी बात नहीं सुनी। NSUI  ने कार्यक्रम आयोजकों पर FIR  कराने की मांग की है।  

बीती रात जीवाजी विश्व विद्यालय के खेल मैदान पर पंजाबी सिंगर गुरु रंधावा का कार्यक्रम था।  कार्यक्रम का आयोजन अमेच्योर फाइट चैम्पियंस लीग के तहत स्पोर्ट्स एसोसिएशन ऑफ मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स इण्डिया ने कराया था। जिसके एमपी के प्रमुख देवेंद्र प्रताप सिंह तोमर हैं। कार्यक्रम के लिए जीवाजी विश्व विद्यालय का खेल मैदान दिया गया।  निःशुल्क पास दिए गए और देखते ही देखते क्षमता से अधिक दर्शक मैदान में पहुँच गए।  थोड़ी ही देर में व्यवस्था फेल हो गई।  और हंगामा होने लगा। कार्यक्रम में भगदड़ मच गई। लड़कियों के साथ अभद्रता होने लगी।  पुलिस को लाठियां चलानी पड़ीं। गुरु रंधावा ने मंच पर मात्र तीन गाने गाये और वहां से भाग लिए। पब्लिक को  मिली वहां से भागने लगी उनसे मैदान की जालियों को तोड़ दिया और विश्व विद्यालय को बहुत नुकसान पहुँचाया।    

NSUI महासचिव सचिन द्विवेदी के नेतृत्व में जीवाजी विश्व विद्यालय पर प्रदर्शन करने करने पहुंचे कार्यकर्ताओं ने मांग की है कि आयोजकों पर FIR  जाए, जो नुकसान हुआ है उसकी भरपाई कुलपति से की जाए और जिसने खेल मैदान पर कार्यक्रम की अनुमति दी उसके खिलाफ भी एक्शन लिया जाये। NSUI  ने चेतावनी दी कि यदि राजनैतिक दबाव के चलते कुलपति आयोजकों के खिलाफ कोई ��क्शन नहीं लेती है तो बड़ा आंदोलन किया जाएगा।  गौरतलब है कि  देवेंद्र प्रताप सिंह तोमर केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर के पुत्र हैं।