गिरफ़्तारी के विरोध में NSUI ने किया प्रदर्शन, CSP-TI के निलंबन की मांग

NSUI-performed-protest-against-the-arrest

ग्वालियर। जीवाजी विश्वविद्यालय में आंदोलन के दौरान बीते रोज NSUI कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी के विरोध में कांग्रेस नेताओं के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने आज एक ज्ञापन पुलिस अधीक्षक को दिया और मामले की निष्पक्ष जांच के साथ सीएसपी और टीआई को निलंबित करने की मांग की । इसके अलावा NSUI  ने एक ज्ञापन यूनिवर्सिटी के कुलपति की बजाय उनके ऑफ़िस के गार्ड को भी दिया,नेताओं के मुताबिक कुलपति भ्रष्टाचार में लिप्त है इसलिये उन्हें ज्ञापन देने का कोई औचित्य नहीं है।

कांग्रेस नेता राघवेंद्र शर्मा के नेतृत्व में NSUI कार्यकर्ता आज एक रैली के रूप में SP ऑफिस पहुंचे,इस दौरान उन्होंने नारेबाजी कर प्रदर्शन भी किया और एक ज्ञापन एसपी को दिया। नेताओं का कहना था कि उन्होंने छात्र हित में शांतिपूर्वक आंदोलन किया था। और हमें गिरफ्तार कर लिया गया जो अनुचित है।  गिरफ्तारी का विरोध दर्ज कराते हुए उन्होंने प्रकरण की निष्पक्ष जांच और सीएसपी और टीआई को सस्पेंड करने की मांग की इसके बाद कांग्रेस कार्यकर्ता जीवाजी विश्वविद्यालय पहुंचे यहाँ उन्होंने कुलपति को ज्ञापन ना देते हुए उनके गार्ड को ज्ञापन सौंपा। छात्र नेताओं का कहना था कि कुलपति भ्रष्टाचार में लिप्त हैं उन्हें क्या ज्ञापन देना। इधर जीवाजी विश्वविद्यालय प्रशासन के मुताबिक पिछले दिनों एनएसयूआई के कार्यकर्ताओं ने काफी अभद्रता की थी गेट बंद किये थे प्रशासन ने इसकी पुलिस में रिपोर्ट की थी। वहीं ज्ञापन लेने के बाद मीडिया से बात करते हुए पुलिस अधीक्षक नवनीत भसीन  का कहना हैं कि यूनिवर्सिटी से एनएसयूआई कार्यकर्ताओ के खिलाफ शिकायतें मिल रही थी और प्रशासन ने उपद्रवी छात्रों पर एफआईआर दर्ज कराई थी एसडीएम और सीएसपी ने मौके पर देखा था, कुछ आपत्तियां थी मामले की जांच की जा रही है।