विकास कार्यों की धीमी गति पर सिंधिया के सवालों का जवाब नहीं दे पाए अफसर

officers-Unable-to-answer-Scindia-questions-at-slow-speed-of-development-work

ग्वालियर। कलेक्ट्रेट में बैठकें होना सामान्य बात है। लेकिन आज हुई बैठक सामान्य बैठकों से अलग थी। ग्वालियर के विकास कार्यों से जुडी इस बैठक को लिया गुना शिवपुरी सांसद एवं कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया ने। उन्होंने जब स्मार्ट सिटी सहित अन्य योजनाओं में कार्यों की धीमी गति पर सवाल किये तो अफसर कोई जवाब नहीं दे पाए।

अपने निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार सांसद सिंधिया ग्वालियर पहुंचे। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने रेलवे स्टेशन पर उनका जोरदार स्वागत किया। सिंधिया तय समय पर कलेक्ट्रेट पहुँच गए और फिर मंत्रियों , विधायकों और अधिकारियों के साथ कलेक्ट्रेट में विकास कार्यों पर बैठक शुरू की।  बैठक में सिंधिया के साथ महापौर विवेक शेजवलकर, खाद्य मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर, पशुपालन लाखन सिंह,विधायक मुन्नालाल गोयल, प्रवीण पाठक, भारत सिंह कुशवाह, पूर्व विधायक रमेश अग्रवाल, जिला ग्रामीण कांग्रेस अध्यक्ष मोहन सिंह राठौर, संभागायुक्त बीएम शर्मा, आईजी अंशुमन यादव, कलेक्टर भरत यादव, पुलिस अधीक्षक नवनीत भसीन, निगमायुक्त विनोद शर्मा, स्मार्ट सिटी सी ई ओ महीप तेजस्वी सहित अन्य कई प्रशासनिक अधिकारी मौजूद थे। 

लगभग तीन घंटे चली इस बैठक में  सिंधिया ने शहर के विकास से जुडी लगभग 20 योजनाओं पर चर्चा की। अमृत योजना और स्मार्ट सिटी के कार्यों पर फोकस रखते हुए उन्होंने जब अधिकारियों से इन योजनाओं की धीमी गति पर सवाल किये तो अफसर कोई संतोषजनक जवाब नहीं दे पाए। सिंधिया ने कहा कि मुझे सभी विकास कार्यों की कार्य योजना बताई जाये। उन्होंने सख्त लहजे में कहा कि जिस कार्य की जो समय सीमा तय हुई है उसी तय समय सीमा में वो पूरा होना चाहिए।