राजमाता विजयाराजे की जयंती पर बेटी वसुंधरा, यशोधरा राजे ने दी पुष्पांजलि, कांग्रेस विधायक भी हुए शामिल

मीडिया ने जब कांग्रेस विधायक से उनकी मौजूदगी पर सवाल किया तो उन्होंने कहा कि राजमाता साहब सर्वत्र थी।

ग्वालियर, अतुल सक्सेना।  भाजपा की वरिष्ठ नेत्री राजमाता विजयाराजे सिंधिया की जन्म जयंती (तिथि अनुसार) पर आज रविवार करवा चौथ के दिन सिंधिया राजवंश की छत्री स्थित राजमाता की समाधि पर पुष्पांजलि समारोह आयोजित  किया गया।  सिंधिया परिवार के इस कार्यक्रम में राजमाता के बेटियों राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे और मध्यप्रदेश की खेल मंत्री यशोधरा राजे, भाभी पूर्व मंत्री माया सिंह ने पुष्पांजलि अर्पित की।  कार्यक्रम में प्रदेश के गृह मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा, पूर्व मंत्री जयभान सिंह पवैया विशेष रूप से शामिल हुए।  खास बात ये रही कि राजमाता को श्रद्धांजलि अर्पित करने कांग्रेस विधायक डॉ सतीश सिंह सिकरवार भी पहुंचे।

भारतीय जनता पार्टी की संस्थापक सदस्य विजयाराजे सिंधिया की जयंती के मौके पर आज रविवार को एक सादा समारोह सिंधिया छत्री पर आयोजित किया गया। वसुंधरा राजे सिंधिया, यशोधरा राजे सिंधिया, माया सिंह , डॉ नरोत्तम मिश्रा , पूर्व मंत्री जयभान सिंह पवैया, पूर्व महापौर समीक्षा गुप्ता सहित अन्य भाजपा नेताओं ने अम्मा महाराज राजमाता सिंधिया की मूर्ति पर पुष्पांजलि अर्पित की।

ये भी पढ़ें – 6 करोड़ कर्मचारियों के लिए खुशखबरी, खाते में जल्द ट्रांसफर होगा पैसा, ये है नई अपडेट

राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री एवं राजमाता की बड़ी बेटी वसुंधरा राजे (Vasundhararaje )ने इस मौके पर अम्मा महाराज को याद करते हुए कहा कि आज करवा चौथ के दिन राजमाता साहब का जन्मोत्सव हैं मैं सब की तरफ से सभी महिलाओं को करवा चौथ की बधाई देती हूँ।

ये भी पढ़ें – Good News: इन कर्मचारियों के मानदेय में वृद्धि, हर महीने इतनी बढ़कर आएगी सैलरी

राजमाता सिंधिया को श्रद्धांजलि अर्पित करने पहुंचे गृह मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा (Dr Narottam Mishra) ने कहा कि माँ, महात्मा और परमात्मा का हर व्यक्ति के जीवन में बड़ा महत्व होता हैं, उन्होंने कहा कि अम्मा महाराज राजपथ से लोकपथ की ओर गई थी उनका जीवन सेवा में निकला मैं उन्हें श्रद्धांजलि देने आया हूँ।

ये भी पढ़ें – Gold Silver Rate : सोने में तेजी, नहीं बदले चांदी के भाव, ये हैं ताजा रेट

पूर्व मंत्री जयभान सिंह पवैया (Jaybhan Singh Pavaiya)ने कहा कि राजमाता जी केवल एक राजनैतिक नेत्री नहीं थी वे हिंदुत्व, राष्ट्रवाद के लिए समर्पित रही। संतों और गौ माता के लिए जीवन भर साधनारत रही।  मेरा उनका साथ अयोध्या आंदोलन से लेकर हिन्दू आन्दोलनों तक करीब 15 वर्ष का रहा।  इसलिए केवल  भाजपा की नेत्री के नाते नहीं बल्कि देश की संस्कृति के लिए जीने वाली एक साधिका के नाते मैं उन्हें प्रणाम करता हूँ।

राजमाता विजयाराजे की जयंती पर बेटी वसुंधरा, यशोधरा राजे ने दी पुष्पांजलि, कांग्रेस विधायक भी हुए शामिल

भाजपा के इस कार्यक्रम में कांग्रेस विधायक डॉ सतीश सिंह सिकरवार की मौजूदगी चर्चा का विषय रही। कांग्रेस विधायक सतीश सिंह सिकरवार ने भी सिंधिया राजवंश की छत्री पहुंचकर राजमाता को पुष्पांजलि अर्पित की।  मीडिया ने जब कांग्रेस विधायक से उनकी मौजूदगी पर सवाल किया तो उन्होंने कहा कि राजमाता साहब सर्वत्र थी।  वे ग्वालियर चम्बल के लोगों के लिए आदर और सम्मान का प्रतीक थी इसलिए उन्हें किसी एक दल से बांधना सबके लिए बेमानी होगी इसलिए मैं उन्हें यहाँ प्रणाम करने आये हैं।