बहुजन संघर्ष दल के सुप्रीमो ने थामा कांग्रेस का दामन, यहां से मिल सकता है टिकट

phool-singh-baraiya-joined-congress-may-be-get-tikat-

ग्वालियर । लोकसभा चुनाव से पहली नेताओं के दल बदलने का दौर तेज हो गया है| इसमें कांग्रेस ने फिर एक बड़ा दांव चला है| ग्वालियर- चम्बल क्षेत्र के चर्चित नेता फूल सिंह बरैया ने आज कांग्रेस का हाथ थाम लिया। भोपाल में मुख्यमंत्री कमलनाथ के सामने उन्होंने अपनी पार्टी बहुजन संघर्ष दल के कांग्रेस में विलय की घोषणा कर दी। 

ग्वालियर चम्बल क्षेत्र में कभी मायावती की बहुजन समाज पार्टी को स्थापित करने वाले इंजीनियर फूलसिंह बरैया पिछले लम्बे समय से बहुजन संघर्ष दल के माध्यम से अपने राजनीतिक जमीन को बचाए रखे थे। क्योंकि मध्यप्रदेश में भाजपा और कांग्रेस के अलावा कोई तीसरी पार्टी मतदाता की पसंद नहीं बन पाई। इसलिए श्री बरैया पिछले कुछ दिनों से अपने दल के विलय के प्रयास में थे। कांग्रेस से वे लगातार संपर्क में थे। 

भिंड, श्योपुर, मुरैना,दतिया जैसे क्षेत्रों में उनके पास एक अच्छा वोटबैंक है जो हमेशा भाजपा और कांग्रेस को चुनौती देता रहा है। लेकिन उन्हें  जीत नहीं दिलवा सका। अपने राजनीतिक भविष्य को बचाए रखने के लिए उन्होंने गुरूवार को कांग्रेस का हाथ थाम लिया। भोपाल में गुरूवार को उन्होंने मुख्यमंत्री कमलनाथ और लहार विधायक और मंत्री डॉ गोविन्द सिंह की मौजूदगी में कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण कर ली और अपनी पार्टी बहुजन सघर्ष दल के कांग्रेस में विलय की घोषणा कर। दी। श्री बरैया बहुजन संघर्ष दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष थे । माना जा रहा है कि लोकसभा में कांग्रेस फूल सिंह बरैया को भिंड – दतिया लोकसभा क्षेत्र से प्रत्याशी बना सकती है।