Gwalior News : पुलिस चैक कर रही बस ड्रायवर कंडक्टर की वर्दी, नहीं दिख रही जाम लगाती बसें  

इस मामले में पुलिस अधीक्षक से जब एमपी ब्रेकिंग न्यूज़ ने बात की तो उन्होंने कहा कि जल्दी ही ऐसे वाहनों के खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी जो सड़कों को जाम कर खड़े होती हैं। 

ग्वालियर, अतुल सक्सेना। ग्वालियर पुलिस (Gwalior Police) आपराधिक घटनाओं, नशे के सौदागरों, अवैध हथियार तस्करों के खिलाफ के खिलाफ प्रभावी कार्रवाई कर रही हैं और इसके लिए वरिष्ठ अधिकारियों की प्रशंसा भी मिलती है लेकिन पुलिस ऐसे लोगों पर से आंखें मूंदे रहती है जिनका अपराध समाज की एक बड़ी आबादी को परेशान करता है। बुधवार को एक ऐसा ही उदाहरण देखने को मिला, ग्वालियर ट्रैफिक पुलिस (Gwalior Traffic Police) बसों को रोक कर ये चैक कर रही थी कि बस के ड्रायवर और कंडक्टर वर्दी पहने हैं कि नहीं लेकिन पुलिस सड़कों पर जाम लगाने वाली बसों के खिलाफ कोई कार्रवाई करती नहीं दिखाई दी।

ग्वालियर ट्रैफिक पुलिस आज बुधवार को सड़कों पर बसों के खिलाफ एक अभियान चलाती दिखाई दी। डीएसपी ट्रैफिक नरेश अन्नोटिया बुधवार को बस स्टैंड पहुंचे और उन्होंने बसों को चैक करना शुरू किया।  डीएसपी ने बताया कि शिकायत मिल रही थी कि बस के ड्रायवर और कंडक्टर ना तो वर्दी पहनते हैं और ना ही नेमप्लेट लगाते हैं, महिलाओं के साथ भी बस में अभद्रता की शिकायत मिली है इसलिए पुलिस अधीक्षक अमित सांघी, एडिशनल एसपी हितिका वासल के निर्देश पर वादी नहीं पहनने और नेमप्लेट नहीं लगाने वाले ड्रायवर कंडक्टर के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है। डीएसपी ने बताया कि ऐसी ही कार्रवाई शहर में अन्य कई जगह ट्रैफिक पुलिस के अन्य अधिकारी कर रहे हैं।

ये भी पढ़ें – Sahara : सहारा में भगदड़, जोनल हेड के बाद अब रीजनल मैनेजर ने दिया इस्तीफा

ट्रैफिक पुलिस की ड्रायवर कंडक्टर के खिलाफ कार्रवाई की जानकारी सोशल मीडिया पर आते ही ये ट्रोल होने लगी।  व्हाट्स एप पर लोग झांसी रोड बस स्टैंड के सामने, कम्पू में और अन्य स्थानों पर जाम लगाती बसों की फोटो पोस्ट करने लगे और लिखने लगे कि आखिर पुलिस की नजर सड़कों पर जाम लगाती बसों पर क्यों नहीं पड़ती ?

ये भी पढ़ें – SAHARA पैराबैंकिंग कंपनी के विरोध में कांग्रेस निकालेगी कैंडल मार्च

एमपी ब्रेकिंग न्यूज़ ने डीएसपी ट्रैफिक नरेश अन्नोटिया से जब इस विषय में बात की तो उन्होंने कहा कि पुलिस लगातार कार्रवाई करती है लेकिन सड़कों पर जाम लगाने वाली बसों के खिलाफ प्रभावी कार्रवाई के लिए संयुक्त प्रयास जरूरी है।  इसमें ट्रैफिक पुलिस के साथ जिला प्रशासन, आरटीओ, क्षेत्रीय थाना पुलिस और नगर निगम को मिलकर काम करना होगा।

ये भी पढ़ें – Gold Silver Rate : चांदी की कीमत में आया उछाल, नहीं बदले सोने के भाव, जानिए क्या है ताजा रेट

इस मामले में पुलिस अधीक्षक से जब एमपी ब्रेकिंग न्यूज़ ने बात की तो उन्होंने कहा कि जल्दी ही ऐसे वाहनों के खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी जो सड़कों को जाम कर खड़े होती हैं।  बहरहाल ग्वालियर पुलिस की इस दोहरी नीति पर लोग अब उंगलियां उठा रहे हैं देखना ये होगा कि प्रभावी कार्रवाई कब तक होती है।

Gwalior News : पुलिस चैक कर रही बस ड्रायवर कंडक्टर की वर्दी, नहीं दिख रही जाम लगाती बसें   Gwalior News : पुलिस चैक कर रही बस ड्रायवर कंडक्टर की वर्दी, नहीं दिख रही जाम लगाती बसें   Gwalior News : पुलिस चैक कर रही बस ड्रायवर कंडक्टर की वर्दी, नहीं दिख रही जाम लगाती बसें