10 हजार के इनामी बदमाश को नहीं ढूंढ सकी पुलिस, दुश्मनों ने कर दी हत्या

murder

ग्वालियर, अतुल सक्सेना। शहर के जनकगंज थाना क्षेत्र में डेढ़ महीने पहले हुई युवक की हत्या के मामले में फरार चल रहे 10 हजार के इनामी बदमाश की अज्ञात हमलावरों ने लाठी, डंडे और सरिये से हत्या कर दी और पहचान छिपाने के लिये चेहरा पत्थर से कुचल दिया। मृतक की पहचान जीतू पंडित के रूप में हुई है। जीतू ने अक्टूबर में पत्नी, बहन और दो दोस्तों के साथ मिलकर एक युवक की हत्या कर दी थी और शव को सिंध नदी में फेंक दिया था। हत्या के मामले में पुलिस चार लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है जबकि जीतू फरार चल रहा था।

जनकगंज थाना क्षेत्र के संजय नगर में रविवार की रात बदमाशों ने लाठी-डंडे सरियों से हमला कर एक बाइक सवार युवक को लहू लुहान कर दिया। जब उसकी सांस उखड़ने लगी तो बदमाशों ने मृतक की पहचान छिपाने के लिये उसके सिर पर पत्थर पटक दिया। और फरार हो गए। हत्या की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची । पूछताछ में मृतक की पहचान 10 हजार के फरार इनामी बदमाश जीतू पंडित के रूप में हुई। टी आई संजीव नयन शर्मा के मुताबिक जीतू की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। पुलिस उसकी डेढ़ महीने से हत्या के मामले में तलाश कर रही थी। फिलहाल अज्ञात हमलावरों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर लिया है । पुलिस ने घटनास्थल से लाठी सरिया और वारदात में शामिल खून से लथपथ पत्थरों को बरामद किया है।

गौरतलब है कि जीतू पंडित ने 2 अक्टूबर की रात राजू राठौर नाम के युवक की हत्या कर उसके शव को सिंध नदी में फेंक दिया था इस हत्या में उसकी पत्नी, बहन और दो दोस्त शामिल थे जिन्हें पूर्व में पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था और यह तभी से फरार था। जिस पर पुलिस ने 10 हजार का नाम घोषित किया हुआ था। फिलहाल पुलिस ने अज्ञात हमलावरों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर आसपास लगे सीसीटीवी कैमरे और लोगों से पूछताछ कर अज्ञात बदमाशों की तलाश शुरू कर दी है। लेकिन यहाँ चौंकाने वाली बात ये है कि जिस इनामी बदमाश को पुलिस नहीं ढूंढ सकी उसकी हत्या दुश्मनों ने मृतक के घर के पास ही कर दी और पुलिस को भनक तक नहीं लगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here