दिन रात ड्यूटी में लगे स्टाफ की पुलिस अफसरों को चिंता, की ये व्यवस्था

ग्वालियर। ग्वालियर@अतुल सक्सेना| कोरोना की लड़ाई में फ्रंट फुट प्लेयर की भूमिका निभा रहे पुलिस महकमे के मैदानी स्टाफ की चिंता अब वरिष्ठ अधिकारियों को सताने लगी है। लगातार लोगों के बीच में रहने और दिन रात ड्यूटी पर तैनात रहने के चलते इन्हें संक्रमण से बचाना भी वरिष्ठ अधिकारियों की जिम्मेदारी है इसीलिए अफसरों ने मैदानी स्टाफ को गर्म पानी पीते रहने की सलाह दी है और इसके लिए मुफ्त बोतल भी उपलब्ध कराई जा रही हैं।

अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक(पुलिस महानिरीक्षक) ग्वालियर राजा बाबू सिंह तथा उपपुलिस महानिरीक्षक एके पांडे के मार्गदर्शन में आज पुलिस अधीक्षक नवनीत भसीन द्वारा दिन-रात कड़ी मेहनत करने वाले सड़क पर ड्यूटी करने वाले थानों के स्टाफ में कोरोना वायरस से सुरक्षित रहने के उपायों पर अमल बरतते हुए सभी स्टाफ को गर्म पानी की बोतल (थरमस) उपलब्ध कराई। सीएसपी रत्नेश तोमर और क्राइम ब्रांच थाना प्रभारी दामोदर गुप्ता ने ड्यूटी स्थल पर पहुंचकर थाना झांसी रोड, थाना विश्वविद्यालय एवं थाना सिरोल के स्टाफ को पुलिस अधीक्षक नवनीत भसीन की ओर से गर्म पानी की बोतल बांटी। इसी प्रकार कल थाना। हजीरा एवं थाना ग्वालियर के स्टाफ को हजीरा क्षेत्र में संत कृपाल सिंह द्वारा भी गर्म पानी की बोतल वितरित कराई गई । आज की बोतलें भी स्वयंसेवी संस्थाओं द्वारा पुलिस अधीक्षक ग्वालियर को उपलब्ध कराई गई जिन्हें स्टाफ में वितरित कराया गया । गौरतलब है कि विशेषज्ञों की राय में कोरोना का वायरस यदि नाक या मुँह के रास्ते शरीर में प्रवेश करता है तो सबसे पहले गले को इफेक्ट करता है और यदि गर्म पानी पिया जाए तो वे पेट में चला जाता है और कुछ घंटे बाद समाप्त हो जाता है। चूंकि पुलिस का मैदानी अमला लोगों के बीच रहता है इसमें संक्रमित व्यक्ति भी हो सकता है इसलिए पुलिस के आला अधिकारी ये बचाव के उपाय कर रहे हैं।

 

दिन रात ड्यूटी में लगे स्टाफ की पुलिस अफसरों को चिंता, की ये व्यवस्था