लॉक डाउन: कच्ची शराब के अड्डे पर पुलिस का छापा, 1 गिरफ्तार, 2 फरार

ग्वालियर।अतुल सक्सेना।

कोरोना वायरस के चलते 14 अप्रैल तक जारी लॉक डाउन का प्रशासन भले ही शहरी क्षेत्रों में कड़ाई से पालन करा रहा हो लेकिन ग्रामीण क्षेत्रों में अवैध धंधा करने वाले चोरी छिपे अपना काम कर रहे हैं। ऐसी ही एक शिकायत पर पुलिस ने सप्लाई के तैयार हो रही कच्ची शराब की भट्टियों पर कार्रवाई की और उन्हें नष्ट कर दिया। पुलिस ने मौके से एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया जबकि उसके दो साथी फरार हो गए।

जानकारी के मुताबिक पुलिस को सूचना मिले थी कि लॉक डाउन के बावजूद ग्रामीण क्षेत्रों में सप्लाई के लिए जलालपुर गांव में अवैध कच्ची शराब की भट्टी चलाई जा रही है । सूचना मिलने पर सीएसपी महाराजपुरा रवि भदौरिया ने हजीरा और पुरानी छावनी थाने के फोर्स के साथ दबिश दी । पुलिस को मौके पर खेतों में रेलवे लाइन के किनारे बनाई शराब भट्टियां मिली। पुलोस को यहाँ ड्रमों में भरा ड्रम कच्चा लहान मिला जिसका प्रयोग शराब बनाने में किया जाता है। पुलिस ने भट्टियां तोड़। दी और लहान नष्ट कर दिया। पुलिस ने मौके से एक आरोपी बल्लू लोधी को करीब 70 लीटर कच्ची शराब के साथ गिरफ्तार कर लिया जबकि अवैध शराब के धंधे में शामिल उसके दो साथी देवेंद्र लोधी एवं जग्गू लोधी फरार हो गए जिनकी तलाश जारी है। जलालपुर में छापे के बाद गाँव के पास बने कंजरों के डेरों पर भी छापे मारे लेकिन पुलिस को मौके पर कुछ नहीं मिला। यहाँ कुछ पुरानी भट्टियां पुलिस को दिखीं जिसे पुलिस ने नष्ट कर दिया। गौरतलब है कि इस समय कोरोना के चलते जारी लॉक डाउन में शराब की दुकाने भी बंद हैं और इसी का फायदा उठाते हुए अवैध कच्ची शराब बनाने वाले शराब पीने वालों को चोरी छिपे शराब उपलब्ध करा रहे हैं लेकिन पुलिस का कहना है कि किसी भी अवैध कारोबारी को फलने फूलने नहीं दिया जायेगा।