पंचायत चुनावों से पहले पुलिस का बड़ा एक्शन, 3 लाख 50 हजार की अवैध शराब जब्त

ग्वालियर, अतुल सक्सेना। मप्र में पंचायत चुनावों (MP Panchayat Election) की घोषणा के बाद पुलिस विभाग अवैध शराब (Illegal liquor) सहित अन्य गैर कानूनी काम करने वालों के खिलाफ सख्त हो गया है। इसी क्रम में ग्वालियर पुलिस (Gwalior Police) ने एक बड़ी कार्यवाही करते हुए साढ़े तीन लाख रुपये की अवैध अंग्रेजी शराब (Illegal English liquor) से भरा लोडिंग वाहन पकड़ा है।

पंचायत चुनावों से पहले पुलिस का बड़ा एक्शन, 3 लाख 50 हजार की अवैध शराब जब्त

पंचायत चुनावों को देखते हुए अवैध हथियार, अवैध शराब की खरी बिक्री करने वालों के खिलाफ ग्वालियर एसएसपी अमित सांघी ने विशेष निर्देश जारी किये हैं। बीती रात एसएसपी अमित सांघी (Gwalior SSP Amit Sanghi) को मुखबिर ने सूचना दी कि डबरा टेकनपुर से अवैध शराब लेकर एक लोडिंग वाहन आ रहा है जो ग्वालियर (Gwalior News) में शराब खपाने वाला है।

ये भी पढ़ें – परीक्षा में मनमानी पर हाईकोर्ट ने MPPEB को जारी किया नोटिस, उम्मीदवार को मिली राहत, DGP से मांगा जवाब

एसएसपी ने एडिशनल एसपी क्राइम राजेश दंडोतिया (Rajesh Dandotiya Adsp Crime Branch Police Gwalior) को शराब से भरे वाहन को पकड़ने के निर्देश दिए।  निर्देश मिलने के बाद एडिशनल एसपी ने क्राइम ब्रांच (Gwalior Crime Branch Police) एवं झांसी रोड थाना पुलिस की संयुक्त टीम बनाकर मुखबिर के बताये स्थान पर भेजी।

ये भी पढ़ें – IRCTC : ट्रेन की टिकट बुकिंग के साथ मिलती हैं ये विशेष सुविधा, क्या आप जानते हैं ?

पुलिस को विक्की फैक्ट्री से कुछ दूर रेलवे पुल के पास चैकिंग प्रारंभ कर दी। चैकिंग के दौरान पुलिस को एक लोडिंग वाहन आता दिखा, पुलिस चैकिंग को देखते ही वाहन चालक ने गाडी भगाने का प्रयास किया, लेकिन पुलिस ने पीछा कर  उसे पकड़ लिया। पुलिस ने जब लोडिंग वाहन की तलाशी ली तो उसमें मैक्डॉवल नं0 1 ब्रांड की शराब की 44 पेटियां मिली जिसकी कीमत 03 लाख 50 हजार रुपये बताई गई है।

ये भी पढ़ें – एमपी: जिला पंचायत अध्यक्ष पद का आरक्षण- 52 जिलों में 8 SC, 14 ST, 4 OBC और 26 अनारक्षित सीटे

पुलिस ने जब शराब लेकर आ रहे तस्कर(चालक) से पूछताछ की तो उसने बताया कि वह टेकनपुर से शराब लेकर ग्वालियर में बेचने के लिए ला रहा था। पुलिस ने तस्कर के खिलाफ झांसी रोड थाने में मामला दर्ज कर लिया है और उससे शराब डिलेवरी करने के स्थान व डिलेवरी लेने वाले व्यक्ति के संबंध में पूछताछ की जा रही है।