11 पौधे लगाने का प्रमाण प्रस्तुत किया और हो गया शस्त्र लाइसेंस बहाल

presented-proof-of-plantation-then-restored-license-

ग्वालियर ।  शस्त्र लायसेंस चाहने वालों के लिए पौधा लगाकर,एक महीने तक सेवा कर सेल्फी लेकर भेजने वालों को लायसेंस देने की अनूठी पहल शुरू करने वाले ग्वालियर कलेक्टर अनुराग चौधरी ने आज एक शस्त्र लायसेंस उस समय बहाल कर दिया जब आवेदक ने 11 पौधे लगाने का प्रमाण प्रस्तुत किया।

दरअसल आम जनों की समस्याओं का मौके पर ही निराकरण करने के उद्देश्य से शासन द्वारा प्रति मंगलवार जन-सुनवाई की व्यवस्था की गई है। ग्वालियर कलेक्टर अनुराग चौधरी ने मंगलवार को कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आम जनों की समस्याओं को सुना और उनका त्वरित निराकरण भी किया। बड़ी संख्या में लोगों ने जन-सुनवाई में पहुँचकर अपनी-अपनी समस्यायें कलेक्टर के सामने रखी ।

कलेक्टर श्री चौधरी ने जिले के सभी विभागीय अधिकारियों के साथ बैठकर जन-सुनवाई की। जन-सुनवाई में देर से आने तथा कार्य में लापरवाही पाए जाने पर श्रम निरीक्षक आलोक शर्मा की दो वेतन वृद्धि रोकने की कार्रवाई के निर्देश भी दिए गए। इसके साथ ही शस्त्र लायसेंस की बहाली के लिए 11 पौधे लगाकर फोटो प्रस्तुत करने पर आवेदक हाकिम सिंह का शस्त्र लायसेंस बहाल कर दिया गया। कलेक्टर ने जन-सुनवाई के दौरान हाईटेंशन लाइन की दुर्घटना में घायल भव्यांश वर्मा पिता को इलाज हेतु 4 लाख रूपए विद्युत विभाग तथा 10 लाख रूपए की राशि मुख्यमंत्री स्वेच्छानुदान से उपलब्ध कराने के लिए प्रकरण भेजने के निर्देश अनुविभागीय अधिकारी राजस्व लश्कर सिटी को दिए। इसके साथ ही पुरानी छावनी में अवैध कॉलोनी काटने की शिकायत पर तत्काल जांच कर सम्पूर्ण रिपोर्ट अंतरविभागीय समन्वय समिति की बैठक में रखने के निर्देश दिए गए। श्री चौधरी ने भारत टॉकीज के पास शिंदे की छावनी में पुरानी बावड़ी पर कब्जा करने की शिकायत प्राप्त होने पर संबंधित एसडीएम को तत्काल कब्जा हटाने और बावड़ी की सफाई का कार्य हाथ में लेने के निर्देश दिए।  दो आवेदकों को बच्चों को स्कूल में प्रवेश हेतु रेडक्रॉस के माध्यम से सहायता राशि भी उपलब्ध कराई। जनसुनवाई में 200 से अधिक लोगों ने कलेक्टर से मुलाकात कर अपनी समस्याओं से अवगत कराया।