भोपाल एयरपोर्ट पर तोड़फोड़ करने वाला डॉक्टरों की बात पर नहीं दे रहा रिस्पॉन्स

ग्वालियर। अतुल सक्सेना।

राजधानी के राजा भोज विमान तल पर हेलीकॉप्टर में तोड़फोड़ और एक विमान के सामने लेटने वाला शख्स योगेश गुमसुम है। उसका ग्वालियर मानसिक आरोग्यशाला के चिकित्सकों ने परीक्षण किया है। इस समय योगेश चुपचाप है वो डॉक्टरों को इलाज में सपोर्ट कर रहा है लेकिन उनकी बातों पर रिस्पॉन्स नहीं कर रहा।

गौरतलब है कि 2 फरवरी को राजा भोज विमान तल की हवाई पट्टी पर उस समय अचानक हड़कंप मच गया जब एक युवक ने हवाई पट्टी पर खड़े एक निजी अगस्ता हेलीकॉप्टर की तोड़फोड़ कर दी उसके बाद वो उडान भरने के लिए तैयार खड़े यात्रियों से भरे विमान के आगे लेट गया। गनीमत ये रही कि विमान के पायलट ने उसे देख लिया और विमान का इंजन बंद कर बड़ा हादसा होने से बचा लिया। घटना के बाद तुरंत एक्शन में आई CISF ने युवक को पकड़ लिया और गिरफ्तार कर लिया। युवक ने अपना नाम योगेश त्रिपाठी बताया। प्रारंभिक जांच में हमीदिया अस्पताल भोपाल के डॉक्टरों ने कहा कि योगेश की मानसिक स्थिति ठीक नहीं है उसके बाद उसे ग्वालियर मानसिक आरोग्यशाला रेफर किया गया। गुरुवार को योगेश को मानसिक आरोग्यशाला के जेल वार्ड में भर्ती किया गया है। जहाँ डॉक्टर उसका परीक्षण कर रहे हैं। मानसिक आरोग्यशाला के मनोरोग विशेषज्ञ डॉ कुलदीप सिंह का कहना है कि योगेश का परीक्षण किया जा रहा है उस नींद का आ रही थी जिसकी दवा उस दी जा रही है। वो गुमसुम रहता है दवा खाने के बाद या तो सोता रहता ही या चुपचाप लेटा रहता है। वो डॉक्टरों की बात सुन तो रहा है लेकिन कोई जवाब नहीं दे रहा। डॉक्टर कुलदीप का कहना है कि योगेश मनोरोगी है या नहीं ये पूरी जांच के बाद ही पता चल सकेगा। जांच और रिपोर्ट आने में करीब 10 दिन का समय लग सकता है।