सिंधिया ने किया ‘ग्वालियर मेले’ का शुभारम्भ, नरेन्द्र सिंह तोमर रहे नदारद, चर्चाओं का बाजार गर्म

Scindia-did-Start-'Gwalior-Fair'

ग्वालियर।

रियासतकालीन एक शताब्दी से भी ज्यादा पुराने ग्वालियर व्यापार मेले का शुभारम्भ सिंधिया राजवंश के वंशज पूर्व केन्द्रीय मंत्री एवं गुना शिवपुरी सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने किया। कार्यक्रम में केन्द्रीय मंत्री एवं ग्वालियर सांसद नरेन्द्र सिंह तोमर को भी सिंधिया के साथ बतौर मुख्य अतिथि आमंत्रित किया गया था। लेकिन उन्होंने कार्यक्रम से दूरी बना ली और उदघाटन समारोह में नहीं पहुंचे। इसके अलावा तोमर समर्थक ग्वालियर जिले के एकमात्र भाजपा विधायक भारत सिंह कुशवाह भी उदघाटन समारोह में शामिल नहीं हुए। तोमर के नहीं पहुँचने से राजनैतिक गलियारों में चर्चाओं का बाजार गर्म है। 

         ग्वालियर व्यापार मेले का औपचारिक उदघाटन आज मेले के एक्सपोर्ट फेसिलिटेशन सेंटर में हुआ। सांसद सिंधिया के अलावा प्रदेश के खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर, महिला एवं बाल विकास मंत्री इमरती देवी, विधायक प्रवीण पाठक, महापौर विवेक नारायण शेजवलकर उपस्थित थे । कार्यक्रम की अध्यक्षता क्षेत्रीय विधायक मुन्नालाल गोयल ने की। कार्यक्रम में पशुपालन मंत्री लाखन सिंह को भी आमंत्रित किया गया था लेकिन वो भी नहीं पहुंचे। 

स्थानीय सांसद और केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर का उदघाटन समारोह में  नहीं पहुँचने को लेकर मेले सहित शहर में चर्चाओं का बाजार गर्म है। कांग्रेस कार्यकर्ताओं का कहना है कि मेले की दुर्दशा करने के बाद भाजपा नेता किस मुंह से आते। उधर जनता का भी कहना है कि मेले में वाहनों को छूट भी सिंधिया ने दिलाई ऐसे में हो सकता है कि केन्द्रीय मंत्री तोमर पर कोई कांग्रेस नेता कटाक्ष कर देता इसलिए भी वे उदघाटन से दूर रहे। 

बहरहाल मेले का उदघाटन हो गया और इस साल सिंधिया के प्रयासों से गाड़ियों की बिक्री पर रोड टैक्स में 50 प्रतिशत की छूट की घोषणा भी हो गई। सिंधिया ने कहा कि मेरे पूर्वजों द्वारा शुरू किये गए इस मेले के वैभव को कम नहीं होने देंगे। इसके लिए जो भी जरुरत होगी हम सब मिलकर सरकार के सहयोग से करेंगे।