कांग्रेस नेता के विरोध में उतरे सिंधिया समर्थक मंत्री और विधायक, यह है मामला

scindia-followers-minister-and-mla-against-congress-leader-in-Gwalior-

ग्वालियर। कांग्रेस नेता प्रबल प्रताप रिंकू माबई के वायरल वीडियो के खिलाफ सिंधिया समर्थक मंत्री और विधायक लामबंद हो गए हैं । इन्होंने अनुशासनहीनता करने वाले कांग्रेस नेता के निष्कासन की मांग की  है। 

ग्वालियर लोकसभा सीट के प्रचार के दौरान ग्रामीण क्षेत्र के ओहदपुर में जनसभा के दौरान मुरैना के कांग्रेस नेता प्रबल प्रताप रिंकू माबई के वायरल वीडियो ने हंगामा खड़ा कर दिया है। वीडियो में कांग्रेस नेता रिंकू माबई सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया का नाम लिए बिना कांग्रेसियों से कह रहे हैं कि अशोक सिंह को दिल्ली में बैठा कांग्रेस नेता ही हरवाता है। हमें अब गुलामी छोड़ देनी चाहिए। मैंने तो चूड़ी, बिछिये और सिंदूर चम्बल में फेंक दिए आप सब भी फेंक दो। 

वीडियो वायरल होने के बाद सिंधिया समर्थकों का गुस्सा सातवे आसमान पर पहुँच गया। ग्वालियर के सिंधिया  समर्थक विधायक और मंत्री, रिंकू माबई के खिलाफ खड़े हो गए हैं। प्रदेश के खाद्य मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर का कहना है कि अनुशासनहीनता किसी भी हालत में स्वीकार नहीं की जाएगी। ऐसे नेताओं का साथ देने या उनका सम्मान करने वाले कांग्रेसी नहीं हो सकते। तोमर ने कहा कि आज वरिष्ठ नेतृत्व के कारण ही आज हम प्रदेश में सरकार बना पाए हैं। ऐसे अनर्गल बयान देने वाले नेताओं के खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए। मंत्री तोमर के अलावा ग्वालियर पूर्व के विधायक मुन्नालाल गोयल ने भी रिंकू माबई के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। उनका कहना है कि सिंधिया जी के कारण आज अंचल में विकास की गति तेज हुई है,हमारी सरकार बनी है । और हमारी ही पार्टी के नेता अनर्गल बयानबाजी कर रहे हैं । विधायक गोयल ने माबई के कांग्रेस से निष्कासन की मांग की है।