भितरवार एसडीएम ने पकड़े अवैध रेत के दो डम्पर, अब जारी होगा रॉयल्टी काटने का खेल

फिलहाल दोनों डम्परों को जप्त कर लिया गया है पर आगे इन पर कार्रवाई होती है या नहीं यह तो भितरवार एसडीएम पर ही निर्भर होगा।

डबरा,सलिल श्रीवास्तव| डबरा और भितरवार अनुभाग में जारी अवैध रेत के खेल पर आज भितरवार एसडीएम ने कुछ हद तक अंकुश लगाने का प्रयास किया और वह लोहारी घाट पर जा पहुंचे जहां उन्हें दो डंपर मिले प्रशासन को देखकर डंपर ड्राइवर मौके से भाग गए|

उनके बारे में इतना तो स्पष्ट है कि वह डंपर बिना रॉयल्टी के होंगे क्योंकि लोहारी पर कंपनी की कोई भी खदान स्वीकृत नहीं है लेकिन इस खेल में भी अब रेत ठेकेदार नया खेल खेलेंगे | क्योंकि अब जैसा अमुमन होता आया है ठेकेदार इनकी रोयलटी काटेगा पर यहां जो प्रश्न उठते हैं वह स्पष्ट इशारा करते हैं कि यदि इन डम्परों पर रॉयल्टी थी तो वह भागे क्यों और यदि वह बसई की रॉयल्टी लेकर चल रहे थे तो यहां लोहारी में क्या कर रहे थे | हो सकता है कि ठेकेदारों द्वारा जारी किए गए टोकन पर्ची इनके पास हो क्योंकि फिलहाल ग्वालियर जिले में यह टोकन पर्ची ही गेट पास बनकर रह गई है जिसे कोई भी अधिकारी रोकने की जहमत नहीं उठा पा रहा है|

फिलहाल दोनों डम्परों को जप्त कर लिया गया है पर आगे इन पर कार्रवाई होती है या नहीं यह तो भितरवार एसडीएम पर ही निर्भर होगा। बता दें कि इस समय ग्वालियर जिले में बड़े पैमाने पर रेत के अवैध उत्खनन और परिवहन का खेल टोकन पर्चियों के माध्यम से जारी बना हुआ है जिसे रोकने की बात करते हुए कलेक्टर और एसपी दोनों ने ही दल बना दिए हैं पर अभी तक किसी ने भी कोई बड़ी कार्रवाई दोनो अनुविभागों में अंजाम नहीं दी है| देखना यह है कि आने वाले समय में यह दल कुछ करते हैं या फिर रेत माफिया ठेकेदारों के संरक्षण में खुलेआम पनडुब्बियों के माध्यम से अवैध उत्खनन जारी रखेंगे।

लुहारी घाट पर कार्यवाही के दौरान दो डमफ़र पकड़े है| जिनके ड्राईवर भाग गये डम्पर जप्त कर लिये है| आगे कार्यवाही जारी रहेगी| अनुविभाग में अवैध उतखनन और परिवहन नहीं होने दिया जायेगा।
-अश्विनी कुमार भितरवार एसडीएम