Gwalior News: 52 दिनों बाद जिंदगी की जंग हारी शशि, पति ने पिला दिया था एसिड

gwalior

डबरा, सलिल श्रीवास्तव।एसिड अटैक का शिकार हुई मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के ग्वालियर जिले (Gwalior) के डबरा रामगढ़ निवासी  आखिरकार 52 दिनों बाद जिंदगी की जंग हार गई है। दिल्ली में उपचार के दौरान गुरुवार शाम शशि ने दम तोड़ दिया। शशि को उसी के पति ने एसिड पिला दिया था और दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल पूरे मामले को संज्ञान में लेते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) को ट्वीट कर कार्रवाई की मांग की थी। इसके बाद एसिड पिलाए जाने के मामले में पति, ननंद और जेठानी के खिलाफ मामला दर्ज किया गया था।

यह भी पढ़े.. MP Weather: मप्र के 18 जिलों में भारी बारिश की चेतावनी, एक साथ ऑरेंज-येलो अलर्ट जारी

दरअसल, डबरा रामगढ़ निवासी महिला शशि जाटव  को उसके पति और भाभी व ननद ने 28 जून काे एसिड पिलाया था, जिसे आनन फानन में ग्वालियर के अस्पताल में भर्ती करवाया गया था, लेकिन हालात में सुधार ना होने के बाद शशि को दिल्ली रैफर किया गया था और करीब 53 दिनों बाद आखिरकार शशि जिंदगी की जंग हार गई और उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई।

हालांकि मामले के सामने आने के बाद तुरंत मृतक की मां ने सिटी थाने (Gwalior Police) में रिपोर्ट दर्ज कराई थी, जिसमें वीरेंद्र उसकी ननंद बबीता और जेठानी मिथिलेश के खिलाफ मामला दर्ज किया गया था। वही महिला का मौत से पहले आया एक  विडियो भी सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है, जिसमें वह दोषियों को सजा की माँग कर रही है।

यह भी पढ़े.. Transfer: MP में सरकार ने बढ़ाई तबादलों की अवधि, अब इस दिन तक होंगे ट्रांसफर

इस पूरी घटना मैं एक नया मोड़ जब आया तब दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल (Swati Maliwal, chairperson of Delhi Commission for Women) के संज्ञान में यह मामला आया तो उन्होंने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को ट्वीट कर दोषियों के खिलाफ कार्यवाही करने और सिटी पुलिस पर मामले को गंभीरता से ना लेने के भी आरोप लगाए थे, जिसको लेकर के वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा गंभीरता से लेकर सिटी थाना प्रभारी विनायक शुक्ला और एक एएसआई को भी निलंबित किया गया था।

कुछ ही दिनों बाद जेठानी और पति को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था। पीड़िता का कुछ दिनों पहले ही एक  ऑपरेशन सफल हो गया था ।ऑपरेशन के 2 दिन बाद ICU से बाहर भी आ गई थी। शशि के भाई योगेश ने बताया कि गुरुवार को अचानक तबीयत बिगड़ गई और दम तोड़ दिया। योगेश ने बताया कि पीएम के बाद बॉडी को भी अपने गांव ले आए हैं। जहां उसका अंतिम संस्कार किया जाएगा। एसिड कांड के मामले में पति और जेठानी पिछले दिनों ननंद बबीता को भेज दिया गया है। मिथिलेश को जमानत मिल गई है।

यह भी पढ़े.. MP के कर्मचारी-अधिकारियों के लिए बड़ी खबर, रुक सकता है वेतन, निर्देश जारी