सख्ती : लापरवाह तीन शिक्षक, 2 पंचायत सचिव निलंबित, आंगनबाड़ी सहायिका की सेवाएं समाप्त

ग्वालियर । कलेक्टर अनुराग चौधरी एवं सीईओ जिला पंचायत शिवम वर्मा ने बुधवार को ग्रामीण क्षेत्र के आंगनबाड़ी केन्द्रों और स्कूलों का  आकस्मिक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान शासकीय कार्य में लापरवाही पाए जाने पर तीन शिक्षकों को निलंबित करने के साथ ही एक आंगनबाड़ी सहायिका को पद से पृथक करने तथा मध्यान्ह भोजन वितरण करने वाले समूह को हटाने की कार्रवाई मौके पर ही की गई। इसके साथ ही संबल योजना के कार्डों का वितरण न करने पर सचिव एवं सहायक सचिव को कारण बताओ नोटिस थमाया गया और अनुपस्थित पाए गए दो पंचायत सचिवों को भी निलंबित कर दिया गया। 

कलेक्टर अनुराग चौधरी ने बुधवार को रायरू क्षेत्र की ग्राम पंचायतों में संचालित आंगनबाड़ी केन्द्रों और शालाओं का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान महिला एवं बाल विकास अधिकारी राजीव सिंह, डीपीसी दीपक शर्मा सहित विभागीय अधिकारी उपस्थित थे। कलेक्टर ने निरीक्षण के दौरान शालाओं का निरीक्षण किया और बच्चों से भी चर्चा की। बिना अनुमति के स्कूल से अनुपस्थित पाए जाने पर तीन शिक्षकों को तत्काल प्रभाव से निलंबित करने के निर्देश दिए। आंगनबाड़ी केन्द्र में भी बच्चों की न्यूनतम उपस्थिति देखकर कलेक्टर ने आंगनबाड़ी सहायिका को पद से पृथक करने तथा समय पर मध्यान्ह भोजन वितरण न पाए जाने पर संबंधित मध्यान्ह भोजन वितरण करने वाले समूह को हटाने के निर्देश दिए हैं। 

कलेक्टर श्री चौधरी सबसे पहले शासकीय प्राथमिक विद्यालय मोगियों का पुरा पहुंचे  निरीक्षण के दौरान स्कूल में 18 बच्चे उपस्थित पाए गए।कलेक्टर ने बच्चों की कम उपस्थिति पर नाराजगी व्यक्त करते हुए शिक्षकों से कहा कि जो बच्चे नियमित स्कूल नहीं आते हैं उनके अभिभावकों से मुलाकात कर चर्चा करें और बच्चों को नियमित स्कूल भेजने के लिए आग्रह करें। इसके पश्चात ग्राम वीलपुरा में उचित मूल्य की दुकान पर राशन लेने आई महिलाओं से चर्चा की तथा खाद्यान्न की उपलब्धता के संबंध में जानकारी प्राप्त की। 

कलेक्टर को निरीक्षण में वीलपुरा स्कूल में पदस्थ 4 शिक्षकों में से 3 शिक्षकों अनुपस्थित मिले। तो उन्होंने कार्रवाई करते हुए अनुपस्थित शिक्षक श्रीमती निर्मला सिंह राजपूत, श्रीमती विमला राजपूत तथा  श्यामसुंदर पाठक को बिना सूचना के अनुपस्थित रहने पर तत्काल प्रभाव से निलंबित करने के निर्देश दिए। इसके साथ ही शासकीय माध्यमिक विद्यालय जिनावली की शिक्षक श्रीमती अनुसुईया दीक्षित को भी अनुपस्थित रहने पर निलंबित करने के निर्देश जारी किए हैं। शाला परिसर में स्वच्छता न पाए जाने पर शिक्षक ओमप्रकाश को कारण बताओ नोटिस जारी किया । कलेक्टर श्री चौधरी एवं सीईओ जिला पंचायत शिवम वर्मा ने ग्राम पंचायत तिलघना का निरीक्षण करने के दौरान अनुपस्थित पाए गए पंचायत सचिव लक्ष्मीनारायण बरेरा तथा ग्राम पंचायत निरावली के सचिव बादाम सिंह को भी निलंबित करने के निर्देश जारी किए । अधिकारियों ने कहा कि शासकीय योजनाओं के क्रियान्वयन और शासकीय कार्य में लापरवाही स्वीकार नहीं की जाएगी।