जेयू में पढ़ रहे और कश्मीर में नौकरी कर रहे छात्रों के कोर्स वर्क निरस्त

Students-studying-in-JU-and-working-in-Kashmir-canceled-course-work

ग्वालियर। पुलवामा हमले के बाद जीवाजी विश्व विद्यालय यानि जेयू के पूर्व छात्र कश्मीरी युवक मुसादिक अहमद द्वारा  देश विरोधी पोस्ट लाइक करने के बाद एक और खुलासा हुआ है। जो जानकारी सामने आई है उसके मुताबिक आठ कश्मीरी छात्र ऐसे सामने आये है जो कोर्स वर्क तो जेयू में कर रहे हैं लेकिन नौकरी कश्मीर में कर रहे हैं।

जीवाजी विश्व विद्यालय में लगभग डेढ़ साल पहले एक पत्र के माध्यम से अज्ञात व्यक्ति द्वारा शिकायत की गई कि यहाँ पर कुछ कश्मीरी छात्र ऐसे हैं जो पढाई विश्व विद्यालय से कर रहे हैं यानि उनका कोर्स वर्क विश्व विद्यालय में चल रहा है लेकिन लेकिन वे कश्मीर में नौकरी भी कर रहे हैं। ये मामला सामने आते ही विश्व विद्यालय प्रबंधन में जांच समिति गठित कर दी। जांच के बाद सामने आया कि विश्व विद्यालय में आठ कश्मीरी छात्र ऐसे हैं जो अंग्रेजी विषय में PHD कर रहे हैं और नौकरी कश्मीर में कर रहे हैं । जांच समिति की रिपोर्ट सामने आने के बाद विश्व विद्यालय प्रबंधन ने सभी आठ कश्मीरी छात्रों के कोर्स वर्क निरस्त कर दिए हैं लेकिन इन छात्रों के नामों का खुलासा अभी नहीं किया है।