पूर्व मंत्री का तंज- “सरकार चल कहाँ रही है, सरकार तो अस्पताल में है”

ग्वालियर/अतुल सक्सेना

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं प्रदेश के पूर्व जन संपर्क मंत्री पीसी शर्मा ने शिवराज सरकार को हर मोर्चे पर विफल बताते हुए बड़ा हमला किया है। उन्होंने ग्वालियर में कहा कि सरकार के पास विधायक खरीदने के लिए करोड़ों रुपये हैं लेकिन कर्मचारियों और गरीबों को देने के लिए पैसा नहीं हैं। उन्होंने तंज किया कि सरकार चल कहाँ रही है, सरकार तो अस्पताल में है।

उपचुनाव की तैयारी को लेकर ग्वालियर पहुंचे ग्वालियर पूर्व विधानसभा के प्रभारी पूर्व जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा ने ब्लॉक, सेक्टर और मंडल में जाकर उस सेक्टर के पोलिंग बूथ को लेकर चर्चा की और जमीनी हकीकत जानी। मीडिया से बात करते हुए पीसी शर्मा ने कहा कि प्रदेश के हालात बद से बदतर हैं। आम आदमी परेशान है। लाखों रुपये के बिजली के बिल आ रहे हैं। कोई सुनने वाला नहीं हैं। केंद्र सरकार ने वादा किया कि 85 करोड़ लोगों को राशन देंगे कहाँ है राशन, 200 रुपये गरीब के एकाउंट में डालेंगे कहाँ है पैसा। मप्र में कर्मचारी परेशान है महंगाई आसमान छू रही है लेकिन सरकार ने महंगाई भत्ता रोक लिया। सरकार ने इंदिरा ज्योति योजना बंद कर दी और संबल की घोषणा कर दी लेकिन आदेश नहीं है। ये घोषणा वीर हैं केवल घोषणा करते हैं। पूर्व मंत्री ने कहा कि सरकार के पास विधायक खरीदने के लिए करोड़ों रुपये हैं लेकिन कर्मचारियों को देने के लिए पैसा नहीं है, छोटे व्यापारी को देने के लिए पैसा नहीं है।

सरकार तो अस्पताल में है चारों तरफ तो कोरोना फैला है
पूर्व मंत्री पीसी शर्मा ने सरकार पर तंज कसते हुए कहा कि सरकार चल कहाँ रही है, सरकार तो अस्पताल में है आज की तारीख में। चारों तरफ कोरोना फैला है। कई मंत्रियों , अफसरों और कर्मचारियों को इन्होंने अस्पताल में डाल दिया है। वर्चुअल मीटिंग के सवाल पर पूर्व मंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री ने चार मंत्रियों को जिम्मेदारी दे दी थी लेकिन भरोसा नहीं है इसलिए खुद बैठक कर रहे हैं। मुख्यमंत्री की दूसरी रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर पूर्व मंत्री ने कहा कि डॉक्टर की सलाह नहीं मान रहे, एक्टिविटी कर रहे हैं, लोगों से मिल रहे हैं। उन्हें आराम करना चाहिए क्वारेंटाइन रहना चाहिए लेकिन वो नहीं हो रहे। मान कर चलिए जो हालात है इस समय प्रदेश की, जनता आक्रोशित है आने वाले चुनावों में पूरी भाजपा को क्वारेंटाइन कर देगी।