व्यापारी को हनी ट्रैप में फंसाकर लाखों की ठगी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश, चार गिरफ्तार

पुलिस टीमों को गोल्डन ब्लेज होटल पर भेजा। पुलिस ने जब गोल्डन ब्लेज होटल के रूम नम्बर 304 का दरवाजा खुलवाया तो रूम के अन्दर तीन पुरुष व एक महिला मिले।

ग्वालियर, अतुल सक्सेना। शिवपुरी के प्रतिष्ठित कपड़ा व्यापारी को हनी ट्रैप (shivpuri trader honeytrap case) में फंसाकर उससे लाखों रुपये की डिमांड करने वाले गिरोह के चार सदस्यों को ग्वालियर पुलिस (Gwalior Police) ने गिरफ्तार किया है। गिरोह में एक महिला भी शामिल है जिसने मोबाइल पर चैटिंग कर व्यापारी नरेंद्र जैन को फंसाया था और उसने तीन पुरुष साथियों ने अश्लील वीडियो बनाये थे। पुलिस ने व्यापारी द्वारा दिए गए 2 लाख रुपये भी बरामद कर लिए हैं।

एसएसपी अमित सांघी (Gwalior SSP Amit Sanghi) ने पत्रकारों को बताया कि लगातार मामले सामने आने के बाद भी लोग हनी ट्रैप का शिकार हो रहे हैं, लेकिन जैसे ही पुलिस तक मामला पहुँचता है पुलिस तत्काल कार्रवाई करती है। ऐसा ही एक घटनाक्रम शिवपुरी के एक प्रतिष्ठित व्यापारी के साथ हुआ लेकिन व्यापारी की हिम्मत और पुलिस की त्वरित कार्रवाई से गिरोह पकड़ा गया है। एसएसपी अमित सांघी ने बताया कि शिवपुरी जिले के नरवर के कपड़ा व्यापारी को उसके ही दोस्त ने हनी ट्रैप के जाल में फंसाया। आरोपी नरवर का रहने वाला है लेकिन फ़िलहाल अहमदाबाद में रहता है। व्यापार के सिलसिले में उसका अहमदाबाद नरवर आना जाना होता था।

ये भी पढ़ें – क्रॉस वोटिंग से डरी BJP, सभी पार्षदों को लेकर दिल्ली गई, Congress ने भाजपा के बागी को पार्टी में शामिल किया, विधायक का दावा, अप्रत्याशित परिणाम आएगा

आरोपी व्यापारी दोस्त ने तीन पुरुष और एक महिला के साथ मिलकर जाल बिछाया और अपने दोस्त कपड़ा व्यापारी को फंसा लिया, महिला बिहार की रहने वाली है और तीनों पुरुष उत्तर प्रदेश में अलग अलग जगह के रहने वाले हैं।  गिरोह के लोगों ने महिला से व्यापारी की चैटिंग शुरू कराई और फिर अश्लील वीडियो और फोटो निकालकर व्यापारी को ब्लैकमेल करने लगे। गिरोह के लोगों ने व्यापारी को कल ग्वालियर (Gwalior News) में होटल गोल्डन ब्लेज में बुलाया और उसके फोटो वीडियो वायरल करने की धमकी देकर 25 लाख रुपये  की डिमांड की। व्यापारी ने रुपये कम करने की मिन्नत की फिर 10 लाख रुपये पर मामला 10 लाख रुपये में तय हुआ। व्यापारी ने उसे 2 लाख रुपये दिए। पैसे देने के बाद व्यापारी को समझ आ गया कि ये लोग तो ऐसे ब्लैकमेल करते ही रहेंगे तो उसने कम्पू थाने में शिकायत की।

ये भी पढ़ें – बैंक के लाखों कर्मचारी-पेंशनर्स के लिए अच्छी खबर, DR, Ex-Gratia राशि में वृद्धि, आदेश जारी, अगस्त से मिलेगा लाभ

मामला संज्ञान में आते ही उन्होंने एडिशनल एसपी क्राइम राजेश दंडोतिया (Adsp Rajesh Dandotiya Gwalior Crime Branch Police) को क्राइम ब्रांच और कंपू थाने के साथ मिलकर होटल पर छापा मारने के निर्देश दिए। निर्देश मिलते ही एडिशनल एसपी राजेश दंडोतिया ने  डीएसपी क्राइम रत्नेश तोमर एवं सीएसपी इन्दरगंज विजय भदौरिया के मार्गदर्शन में टीआई क्राइम ब्रांच दामोदर गुप्ता तथा टीआई कंपू रामनरेश यादव के नेतृत्व में पुलिस टीमों को गोल्डन ब्लेज होटल पर भेजा। पुलिस ने जब गोल्डन ब्लेज होटल के रूम नम्बर 304 का दरवाजा खुलवाया तो रूम के अन्दर तीन पुरुष व एक महिला मिले।

पुलिस द्वारा की गई पूछताछ में उनके द्वारा बताया गया कि नरवर जिला शिवपुरी हाल अहमदाबाद निवासी मास्टर माइण्ड के कहने पर उन लोगों के द्वारा कपड़ा व्यापारी नरेन्द्र जैन निवासी नरवर को हनीटैप में फसाकर झूठा केस कायम करने की धमकी देकर उससे 25 लाख रूपये की मांग की गई थी, जिस पर फरियादी द्वारा गिरोह के सदस्यों नेे 02 लाख रूपये की रकम भी दे दी गई थी। फरियादी से ऐंठी गई रकम गिरोह के सदस्यों ने आपस में बांट ली थी। जिसे पुलिस ने बरामद कर लिया। पुलिस मुख्य आरोपी की तलाश कर रही है। क्राइम ब्रांच की दो टीमें अहमदाबाद रवाना हो चुकी हैं।

व्यापारी को हनी ट्रैप में फंसाकर लाखों की ठगी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश, चार गिरफ्तार