फंसाने के लिए रची झूठी लूट और छेड़छाड़ की कहानी, फरियादी महिला पुलिस गिरफ्त में

पुलिस ने अब इस मामले में फरियादी और उसके साथियों बनाकर उनके खिलाफ ही मामला दर्ज कर चार लोगों को गिरफ्तार कर लिया है।

ग्वालियर, अतुल सक्सेना। ग्वालियर की झांसी रोड थाना पुलिस  (Gwalior Police) ने एक फर्जी लूट (False Robbery) का खुलासा किया है। पिछले दिनों एक महिला ने शिकायत दर्ज कराई थी कि उसके साथ दो लोगों ने छेड़छाड़ और लूट की घटना को अंजाम दिया है।  आरोपी उसकी सोने की चेन लूटकर फरार गए। पुलिस ने जब मामले की तफ्तीश की और साक्ष्य जुटाए तो पूरी कहानी झूठी निकली। फरियादी ने पुराने प्रॉपर्टी विवाद के चलते ये झूठी कहानी रची।  पुलिस ने अब इस मामले में फरियादी को ही आरोपी बनाकर गिरफ्तार किया है।

एडिशनल एसपी राजेश दंडोतिया ने पत्रकारों को जानकारी देते हुए बताया कि 26 अगस्त को झांसी रोड थाने में एक महिला ने उसके साथ लूट और छेड़छाड़ की घटना की एफआईआर लिखे थी। महिला ने शिकायत में दो आरोपियों के नाम लिखाये थे जिसमें से एक ज्ञात और अज्ञात था। जो आरोपी ज्ञात था वो रिश्ते में फरियादी महिला का जीजा लगता है।

ये भी पढ़ें – Exclusive : जानिए कौन हैं एल मुरुगन जिन्हें भाजपा ने MP से बनाया है राज्यसभा उम्मीदवार

एडिशनल एसपी ने बताया कि जब टीआई थाना झाँसी रोड मिर्जा आसिफ बेग ने एक महिला सब इंस्पेक्टर के साथ जांच शुरू की तो बहुत कुछ संदिघ्ध लगा।  महिला ने जिस ज्ञात व्यक्ति का नाम एफआईआर में लिखाया था उसके मोबाइल की टॉवर लोकेशन निकाली गई तो वो फरियादी द्वारा बताई जगह पर नहीं मिली। उस दिन और उस समय वो व्यक्ति अपनी पत्नी के साथ वकील के पास बैठा था।

ये भी पढ़ें – BJP को बड़ा झटका- बाबुल सुप्रियो TMC में शामिल, जल्द मिल सकती है बड़ी जिम्मेदारी

पुलिस ने जब फरियादी महिला को कोतवाली थाने बुलाकर कड़ाई से पूछताछ की तो पूरी सच्चाई सामने आ गई। महिला ने बताया कि उसका अपने रिश्ते के जीजा से पैसे के लेनदेन और प्रॉपर्टी का विवाद चल रहा है इसलिए उसने अपनी दो बहनों और दो मित्रों के साथ मिलकर उसे फंसाने की प्लानिंग की जिससे यदि पुलिस केस होगा तो उन पर दबाव बनेगा और उनका मामला सुलझ जाएगा। पुलिस ने अब इस मामले में फरियादी और उसके साथियों बनाकर उनके खिलाफ ही मामला दर्ज कर चार लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। जबकि एक आरोपी अभी फरार है।