These-Ministers-of-Kamal-Nath-demand-government-house-in-Home-District-

भोपाल। मप्र सरकार के मंत्रियों को राजधानी भोपाल में सरकारी आवासों का आवंटन हो चुका है, लेकिन ज्यादातर अभी तक इन आवासों में शिफ्ट नहीं हुए हैं। इस बीच मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर और इमरती देवी ने गृह जिले ग्वालियर में भी सरकार आवास आवंटित करने की नोटशीट गृह विभाग को भेज दी है। अब गृह विभाग की ओर से मंत्रियों गृह जिले में बंगला आवंटित करने की फाइल मुख्यमंत्री के पास भेजी जा रही है।

तोमर और इमरती को राजधानी में आवंटित सरकारी आवासों में मरम्मत का काम चल रहा है। इमरती देवी को बी-10, 74 बंगला मिला है, जबकि प्रद्युम्न सिंह को बी-31, 74 बंगला मिला है। अभी तक दोनों मंंत्री बंगलों में शिफ्ट नहीं हुए हैं। इन्हें भोपाल से ज्यादा गृह जिले में बंगला आवंटन की चिंता है। इसके लिए दोनों मंत्री गृह विभाग के अफसरों पर लगातार दबाव बनाए हुए हैं। सूत्रों ने बताया कि जब गृह विभाग की ओर से बताया गया कि बंगला आवंटन की फाइल मुख्यमंत्री के पास भेजी जा रही है, जो मंत्री गफलत की स्थिति में पड़ गए हैं। 

मंत्रियों को है गृह जिले में बंगले की पात्रता

मंत्रियों को राजधानी के साथ-साथ गृह जिले अथवा प्रभार वाले जिले में सरकारी आवास की पात्रता रहती है। हालांकि अभी तक अन्य किसी मंत्री की ओर से गृह जिले में बंगला आवंटन की मांग नहीं की है। सत्ता परिवर्तन होते ही गृह विभाग ने सभी कलेक्टरों को पत्र लिखकर पूर्व मंत्रियों को आवंटित बंगला खाली कराने के निर्देश जारी कर दिए थे।