ग्वालियर। अतुल सक्सेना| प्रदेश के दूसरे शहरों की तुलना में थोड़े बेहतर परिणाम वाले ग्वालियर जिले (Gwalior District) में आज एक और कोरोना पॉजिटिव (Corona Positive) मरीज की मौत हो गई। कोरोना से जंग हारने वाला ये जिले का तीसरा मरीज है।

ग्वालियर के एबी रोड स्थित माधव नगर में रहने वाले राजकुमार सिंह की बुधवार सुबह सुपर स्पेशलिटी अस्पताल में मौत हो गई। वे 12 जून से अस्पताल में भर्ती थे। मृतक कि उम्र महज 42 साल थी। सुपर स्पेशलिटी अस्पताल के अधीक्षक डॉ गिरिजा शंकर गुप्ता के मुताबिक राजकुमार को दिल्ली के इंस्टिट्यूट ऑफ लिवर एंड बिलेरी साइंस ILBS से ग्वालियर रिफर किया गया था। उनका लिवर खराब हो गया था जिसके ट्रांसप्लांट के लिए वे वहाँ भर्ती हुए थे। इलाज से पहले उनका कोरोना टेस्ट हुआ जो पॉजिटिव आया तो ILBS ने उन्हें ग्वालियर भेज दिया जिसके बाद 12 जून से उनका इलाज किया जा रहा था। लेकिन बुधवार को उनकी मौत हो गई। उधर परिजनों का कहना था कि दिल्ली के डॉक्टर यदि लिवर ट्रांसप्लांट कर देते तो उसकी जान बच सकती थी लेकिन कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट आते ही उन्होंने कोई संवेदनशीलता नहीं दिखाई और ग्वालियर वापस भेज दिया।

जिले में कोरोना से तीसरी मौत दर्ज
बुधवार को राजकुमार की मौत कोरोना से होने वाली जिले की तीसरी मौत है। इससे पहले 10 मई को जिले की पहली मौत डबरा निवासी 80 साल के वृद्ध गंगाराम रोहिरा की हुई थी जबकि डबरा की ही रहने वाली 100साल से अधिक उम्र की देवा बाई की 23 मई को मौत हो गई थी। दोनों कोरोना पॉजिटिव थे। राजकुमार की मौत के बाद जिला प्रशासन ने निर्धारित गाइड लाइन के अनुसार प्रशासनिक अधिकारियों कीमौजूदगी में कोरोना संकृमित मरीजों के लिए बनाये गए नियमों का पालन करते हुए इलेक्ट्रिक शव दाह गृह में राजकुमार का अंतिम संस्कार कर दिया।