Gwalior News : इस तारीख से लगेगा व्यापार मेला, मंत्री की मौजूदगी में कई महत्वपूर्ण फैसले

शासन ने फैसला लिया है कि इस बार ये मेला 15 फरवरी से 15 अप्रैल तक (15 February to 15 April) दो महीने तक आयोजित किया जायेगा।

gwalior

ग्वालियर, अतुल सक्सेना। कोरोना संक्रमण के कारण अपने निर्धारित समय (दिसंबर) में शुरू नहीं हो सका ग्वालियर व्यापार मेला (Gwalior Trade Fair) अब 15 फरवरी से शुरू होगा। शासन ने फैसला लिया है कि इस बार ये मेला 15 फरवरी से 15 अप्रैल तक (15 February to 15 April) दो महीने तक आयोजित किया जायेगा। मेले की तैयारियों को लेकर आयोजित बैठक में MSME मंत्री ओम प्रकाश सखलेचा (MSME Minister Om Prakash Sakhalecha) की मौजूदगी मे ये फैसला लिया गया।

यह भी पढ़े… MPPSC : उम्मीदवारों को बड़ी राहत, मार्च में ही होंगे मेंस एग्जाम, कर सकते है एप्लाई

ग्वालियर व्यापार मेला प्राधिकरण के सभाकक्ष में मंगलवार की रात आयोजित संचालक मण्डल की बैठक में मेले के आयोजन के संबंध में महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए। प्रदेश के सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम मंत्री ओमप्रकाश सखलेचा ने कहा है कि ग्वालियर का व्यापार मेला बहुत ही ऐतिहासिक मेला है। इस मेले को इस वर्ष भी पूर्ण भव्यता और गरिमा के साथ आयोजित किया जाए।

मेले में आने वाले व्यापारियों को हर प्रकार की सुविधायें उपलब्ध कराई जाएं। इसके साथ ही प्रदेशभर से आने वाले सैलानियों के लिये भी मेले में हर प्रकार की सुविधायें हों, यह सुनिश्चित किया जाए। मंत्री श्री सखलेचा ने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा ग्वालियर व्यापार मेले में वाहनों के पंजीयन शुल्क में छूट देने की घोषणा की है। मेला प्रांगण में ही आरटीओ ऑफिस (RTO Office) स्थापित कर मेले में क्रय किए जाने वाले सभी वाहनों का पंजीयन सुनिश्चित किया जाए।

सांस्कृतिक आयोजन, दंगल होगा, पशु मेला भी लगेगा

मंत्री श्री सखलेचा ने यह भी कहा कि मेला प्राधिकरण द्वारा मेले में आयोजित किए जाने वाले सांस्कृतिक कार्यक्रम भी भव्यता से आयोजित किए जाएं और इनमें प्रस्तुत किए जाने वाले सांस्कृतिक कार्यक्रम गरिमामय हों, यह सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने यह भी निर्देशित किया है कि मेले के सांस्कृतिक कार्यक्रमों, प्रचार-प्रसार के लिये एक ईवेंट कंपनी को भी रखा जाए।

इसके लिये प्राधिकरण तत्परता से कार्रवाई सुनिश्चित करे। बैठक में हर वर्ष मेले में आयोजित होने वाले राज्य स्तरीय पशु एवं किसान मेले (State level cattle and farmers fair) के आयोजन के संबंध में निर्णय लिया गया कि प्राधिकरण इसका आयोजन भी अवश्य करे। इसके लिये स्थानीय स्तर पर निर्णय लेकर उचित समय पर इसका आयोजन हो, यह सुनिश्चित किया जाए। मेले में आयोजित होने वाले दंगल को भी इस बार आयोजित करने का निर्णय लिया गया।

8 महीने तक मेला परिसर में आयोजित हों विभिन्न मेले

मंत्री श्री सखलेचा ने बैठक में यह भी निर्देश दिए हैं कि ग्वालियर व्यापार मेला प्राधिकरण अपनी आय को बढ़ाने के लिये भी विशेष प्रयास करे। उन्होंने कहा कि वर्ष में कम से कम 8 माह इस मेला प्रांगण में विभिन्न प्रकार के मेले आयोजित हों, इसकी भी रूपरेखा तैयार की जाए। मंत्री श्री सखलेचा ने बैठक में निर्देश दिए हैं कि मेला प्राधिकरण द्वारा जो मैरिज गार्डन किराए पर दिए गए हैं उन पर जो राशि बकाया है उनकी वसूली की कार्रवाई भी प्रभावी रूप से की जाए।

बैठक में मेले की व्यवस्थाओं के संबंध में जो भी तैयारी की जाना है उसे समय-सीमा में किए जाने के निर्देश दिए गए। मंत्री श्री सखलेचा ने संभागीय आयुक्त एवं कलेक्टर से आग्रह किया कि मेले के आयोजन के लिये जो भी तैयारियां की जाना हैं, उसमें जिला प्रशासन अपनी अग्रणी भूमिका का निर्वहन करे।