सीट के नीचे बनाये खुफिया बॉक्स में छिपाकर ले जा रहे थे शराब, गिरफ्तार

पुलिस ने जब गाड़ी चैक की तो उसकी आँखें फटी रह गई। जांच में सामने आया कि तस्करों ने पिछली सीट के नीचे एक खुफिया बॉक्स बना रखा था जिसमें छिपाकर वे शराब ले जा रहे थे

ग्वालियर, अतुल सक्सेना। जिले में चल रहे एंटी माफिया अभियान (Anti  Mafia Campaign)और पुलिस की रुटीन चैकिंग में ग्वालियर की क्राइम ब्रांच पुलिस ( Crime Branch Police) को एक बड़ी सफलता हाथ लगी है। पुलिस ने खुफिया तरीके से कार में छिपाकर ले जाई जा रही अवैध शराब (Illegal liquor) को जब्त कर लिया और दो अंतरराज्यीय तस्करों (Interstate smugglers)  को गिरफ्तार कर लिया।

अंतरराज्यीय स्तर पर सक्रिय शराब माफिया की गैर कानूनी तरीके से शराब ले जाने की एक योजना को ग्वालियर की क्राइम ब्रांच ने विफल कर दिया। । डीएसपी क्राइम विजय भदौरिया ने बताया कि मुखबिर से सूचना मिली थी कि हरियाणा के नंबर की एक सेंट्रो कार में तस्करी कर शराब ले जाई जा रही है । मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने झांसी रोड थाना क्षेत्र में माधव नगर गेट के पास एक सेंट्रो कार को रोका। पुलिस ने जब गाड़ी चैक की तो उसकी आँखें फटी रह गई। जांच में सामने आया कि तस्करों ने पिछली सीट के नीचे एक खुफिया बॉक्स बना रखा था जिसमें छिपाकर वे शराब ले जा रहे थे। तस्करों ने बॉक्स को कुछ इस तरह से पैक किया था और मैट से छिपाया था कि ऊपर से सबकुछ सामान्य दिखाई दे रहा था । लेकिन पिन पॉइंट जानकारी और पुलिस की पैनी निगाहों ने बॉक्स खोज लिया। पुलिस ने बॉक्स में रखी 10 पेटी अंग्रेजी शराब और 11 बोतल देशी शराब जब्त की। हालांकि पकड़ी गई शराब की कीमत मात्र 65,000 रुपये है लेकिन इस कार्रवाई से तस्करों की शराब छिपाकर ले जाने की नई तकनीक की जानकारी पुलिस को मिल गई। पुलिस ने हरियाणा के रहने वाले दोनों तस्करों को गिरफ्तार कर लिया है और उनसे कड़ी पुत्र जारी है।