केन्द्रीय मंत्री ने किया करोड़ों के विकास कार्यों का शुभारम्भ, कांग्रेस ने धरना देकर जताया विरोध

2234
-Union-Minister-inaugurated-development-works-of-crores

ग्वालियर । लोकसभा चुनावों को नजदीक आते ही ग्वालियर में भूमिपूजन और लोकार्पण समारोहों में तेजी आ गई है। इतना ही नहीं श्रेय की राजनीति के चलते भाजपा और कांग्रेस दोनों एक दूसरे का विरोध कर रही है। दो दिन पहले सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया द्वारा एक हजार बिस्तर वाले अस्पताल के भूमिपूजन का भाजपा ने आक्रोशित होकर विरोध जताया था वहीँ आज ग्वालियर सांसद नरेन्द्र सिंह तोमर द्वारा किये गए 25 करोड़ रुपए के विकास कार्यों का कांग्रेस ने विरोध किया। 

केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने शुक्रवार को जलविहार परिसर में नगर निगम ग्वालियर द्वारा किए जा रहे 25 करोड रुपए से अधिक के विकास कार्यों के शुभारंभ किया मुख्य अतिथि के रुप में बोलते हुए उन्होंने कहा कि विकास एक निरंतर चलने वाली प्रक्रिया है । विकास का पहिया घूमता रहना चाहिए। इसके लिए शहर के सभी जनप्रतिनिधियों का एक ही विजन होना चाहिए। चाहे वो केंद्र सर्कार या राज्य सरकार के प्रतिनिधि हों।  कार्यक्रम की अध्यक्षता महापौर विवेक नारायण शेजवलकर ने की। 

स्वच्छता में ग्वालियर के 59 वे नंबर पर आने की कसक श्री तोमर के भाषण में दिखी । सांसद श्री तोमर ने कहा कि स्वच्छता एक संस्था व एक व्यक्ति का विषय नहीं है यह लोगों के स्वभाव परिवर्तन का विषय है। केन्द्र सरकार ने स्वच्छता का जो आंदोलन देश भर में प्रारंभ किया है आज इस आंदोलन के कारण ही देश में स्वच्छता की अलख जगी है तथा लोग स्वच्छता के प्रति अपने दायित्वों को समझ रहे हैं। श्री तोमर ने कहा कि इंदौर यदि स्वच्छता में नम्बर 1 है तो इसका श्रेय इंदौर की जनता को ही जाता है। शहर में कहीं भी गंदगी न होने देने का संकल्प प्रत्येक शहरवासियों को लेना तभी हम भी अव्वल आ सकेंगे। इस अवसर पर महापौर श्री शेजवलकर ने कहा कि शहर में एक साथ 25 करोड रुपए से अधिक के विकास कार्यों का शुभारंभ हो रहा है। इसका उददेश्य यह है कि आचार संहिता के दौरान शहर में विकास कार्य रुकना नहीं चाहिए। उन्होंने कहा कि पिछले 5 सालों में शहर में तेजी से विकास कार्य हुए हैं जिनका लाभ भी नागरिकों को मिल रहा है तथा आने वाले समय में अमृत योजना का कार्य पूर्ण होते ही शहर में पेयजल एवं सीवर की समस्या पूर्ण रुप से दूर हो जाएगी तथा नागरिकों को प्रेशर से बिना मोटर के पानी मिलेगा। महापौर श्री शेजवलकर ने कहा कि शहर में कचरा प्रबंधन को लेकर भी कार्य हो रहा है तथा स्वच्छता में नम्बर 1 आने के लिए हम सभी को टीम भावना से कार्य करने की आवश्यकता है।

गौरतलब है कि नगर निगम ग्वालियर द्वारा शहर के विभिन्न वार्डों में किए जा रहे विकास कार्यों में 21 करोड 10 लाख 82 हजार 857 रूपये के विकास कार्यो का भूमिपूजन एवं 3 करोड 83 लाख 11 हजार 763 रूपये के विकास कार्यो का लोकापर्ण तथा 6 स्थानों पर 1 करोड रुपए से अधिक की लागत से बनने वाले सामुदायिक एवं शौचालय के भूमिपूजन सहित कुल 25 करोड 93 लाख 94 हजार 620 रुपए के विकास कार्यों का भूमिपूजन एवं लोकार्पण अतिथियों द्वारा किया गया। 

उधर केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर द्वारा किये गए 25 करोड़ के कार्यों के भूमिपूजन और लोकार्पण के विरोध में कांग्रेस ने फूलबाग पर गांधी जी की प्रतिमा के नीचे मौन धरना दिया। जिला अध्यक्ष डॉ देवेन्द्र शर्मा के नेतृत्व में दिए गए मौन धरने से पहले कांग्रेस ने इसे लोकसभा चुनावों में  लाभ लेने के लिए भाजपा की एक चाल बताया। कांग्रेस ने ईश्वर से भाजपा को सदबुद्धि देने की प्रार्थना की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here