अनूठी पहल: एक पौधा लगाओ महीनेभर सेवा करो, सेल्फी लो तब मिलेगा हथियार का लाइसेंस

Unique-initiative-of-gwalior-collector-anurag-chaudhary

ग्वालियर। 29 हजार 800 लायसेंसी हथियार वाले ग्वालियर जिले में हथियार पाने की चाहत लोगों में कम नहीं हो रही है। इसी का नतीजा है कि सुरक्षा से ज्यादा स्टेटस सिम्बल बन चुके लायसेंसी हथियार को पाने वाले आवेदकों की संख्या लगातार बढ़ रही है लेकिन इस बार पर्यावरण प्रेमी कलेक्टर ने इसके लिए एक नई शर्त लगा दी है। शर्त भी ऐसी जिसकी चारों तरफ प्रशंसा हो रही है। 

दरअसल ग्वालियर जिले में पिछले कुछ वर्षों से हरियाली में कमी आ रही है हालाँकि हर साल बारिश के दिनों में सरकारी और गैर सरकारी स्तर पर हजारों पौधे रोपे जाते है लेकिन देखभाल के अभाव में इनमें से ज्यादातर पौधे दम तोड़ जाते हैं। इसलिए इस कमी को पूरा करने के लिए ग्वालियर कलेक्टर अनुराग चौधरी ने लायसेंसी हथियार की चाहत रखने वालों के साथ एक अनूठी शर्त रख दी है। शर्त के अनुसार हथियार का लायसेंस पाने के लिए आवेदक को अब अपने घर के आसपास एक पौधा लगना होगा । इस पौधे की एक महीने तक सेवा करनी होगी फिर एक महीने के पौधे के साथ सेल्फी लेकर कलेक्टर को प्रस्तुत करनी होगी तब कहीं जाकर लायसेंस जारी हो सकेगा। आवेदक झूठ ना बोल सके इस बात का ध्यान भी कलेक्टर ने रखा है, इसकी जांच सम्बंधित क्षेत्र का पटवारी करेगा।

गौरतलब है कि विधानसभा और लोकसभा चुनावों के चलते प्रभावी आचार संहिता के कारन कलेक्ट्रेट में 12 बोर और 315 बोर के हथियारों के लायसेंस के 480 आवेदन पेंडिंग हैं जबकि पिस्टल के 210 आवेदनों पर भी अभी विचार किया जाना है। इस अनूठे नियम को लागू करने के पीछे कलेक्टर अनुराग चौधरी ने बताया कि उनकी मंशा सिर्फ इतनी है कि लोग पौधरोपण को लेकर गंभीर रहें और पौधों की देखभाल खुद रहें।